NEET में एक बार फिर गोल के छात्रों ने लहराया परचम, बिहार के टॉपरों की श्रृंखला देकर बढ़ाया प्रदेश का मान

NEET में एक बार फिर गोल के छात्रों ने लहराया परचम, बिहार के टॉपरों की श्रृंखला देकर बढ़ाया प्रदेश का मान

PATNA : गोल छात्रों ने नीट 2021 के रिजल्ट में ऑल इंडिया में टॉप रैंकर्स देने की परम्परा को जारी रखते हुए मेडीकल प्रवेश परीक्षा में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। नीट में बिहार के अधिकतर टॉपर्स गोल इन्सटीट्यूट से ही हैं। गोल क्लास रूम कोर्स एवं गोल विलेज से तैयारी कर रहे अमन हर्ष 696 एवं प्रिंसप्रियदर्शी ने 691 अंक प्राप्त किया । जिनका ऑल इंडिया रैंक क्रमशः 241 एवं 390 है। अपने सफलता का श्रेय माता-पिता के अलावा गोल इन्स्टीट्यूट को देते हुए प्रिंस प्रीयदर्शी ने बताया कि इस कोरोना काल में भी गोल इन्स्टीट्यूट द्वारा ऑनलाइन एवं ऑफलाइन रिविजन क्लास, टेस्ट, डाउट्स के साथ गोल के एक्सपर्ट्स के द्वारा दिशा निर्देश ने हमारे सफलता मे अहम भूमिका निभाया है। गोल विलेज में प्राप्त पर्सनल केयर एवं अच्छे कॉम्पीटीटीव माहौल का हमारे अच्छे रिजल्ट में अहम रोल है। गोल का सहयोग हमे नीट परीक्षा के दिन तक मिला जो हमारे लिए अविस्मरणिय है। ऑल इंडिया 176 कैटेगरी रैंक एवं 241 जेनरल रैंक प्राप्त अमन हर्ष ने गोल संस्थान को धन्यवाद देते हुए बताया कि गोल एजूकेशन विलेज का कॉम्पिटीटीव माहौल, लाइब्रेरी का अद्वितीय व्यवस्था एवं गोल के समर्पित लोगों का लगातार मिल रहा सहयोग का हमारे सफलता में महत्वपूर्ण योगदान है। ऑल इंडिया 15 कैटेगरी रैंक एवं 252 जेनरल रैंक प्राप्त प्रज्ञाँश समइयार (695 मार्क्स) ने कहा कि गोल संस्थान एक परिवार की तरह केयर किया है और साथ ही क्वालीटी शिक्षण एवं नीट के नए पैटर्न पर आधारित गोल का टेस्ट के द्वारा प्रैक्टिस ने हमे टॉपर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

गोल संस्थान से इनके अलावा सत्यम कुमार 43 कैटेगरी रैंक एवं 499 जेनरल रैंक (690 मार्क्स), पुजा कूमारी 134 कैटेगरी रैंक एवं 606 जेनरल रैंक (685 मार्क्स), अनिकेत प्रभाकर 181 कैटेगरी रैंक एवं 769 जेनरल रैंक (682 मार्क्स), आनन्द मिश्रा 591 कैटेगरी रैंक एवं 933 जेनरल रैंक (680 मार्क्स), अभिलाषा झा 56 कैटेगरी रैंक एवं 640 जेनरल रैंक (685 मार्क्स) के साथ सैंकड़ों अन्य छात्रों ने सफलता प्राप्त कि है।

गोल इन्सटीट्यूट के संस्थापक एवं मैनेंजिंग डॉयरेक्टर विपीन सिंह ने सभी सफल छात्रें को बधाई देते हुए कहा कि यह सफलता छात्रें के अथक प्रयास, संस्थान के टीम वर्क एवं अभिभावकों का गोल के प्रति विश्वास का प्रतिफल है। सिंह ने आशा व्यक्त किया की आने वाले वर्षों में गोल इन्स्टीट्यूट छात्रों और संस्थान के प्रयास से और भी बेहतर रिजल्ट देने के लिए प्रतिबद्ध है। 

गोल इन्स्टीट्यूट के असिस्टेंट डायरेक्टर रंजय सिंह ने कहा कि गोल से अभी तक प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 5640 छात्रों ने नीट क्वालीफाई किया है। जिनमें लगभग 672 से अधिक छात्रों को सरकारी मेडीकल कॉलेजों में दाखिला मिलने की संभावना है। रंजय सिंह ने बताया कि चैलेंजर ग्रुप के 100% छात्रें ने सफलता प्राप्त की वहीं गोल विलेज से 92% से अधिक छात्र सफल हुए। उन्होनें बताया कि अगले वर्ष नीट की तैयारी कर रहे छात्रें के लिए गोल इन्स्टीट्यूट ऑनलाइन एवं ऑफलाइन क्लास एवं टेस्ट के माध्यम से सभी जरूरी सुविधाएँ दे रही है। साथ ही छात्रों के मेरीट के अनुसार स्कॉलरशिप के माध्यम से 100 प्रतिशत तक की छुट दी जा रही है।

गोल इन्सटीट्यूट के आनंद वत्स ने कहा की गोल विलेज एवं एचीवर कैंपस के छात्रें की शानदार सफलता के पीछे छात्रों का आपसी सहयोग के कारण अच्छा माहौल, पर्सनल केयर एवं वहां का लाइब्रेरी का महत्वपूर्ण योगदान रहा। साथ ही नीट कान्सेेलिंग हेतु गोल संस्थान के तरफ से सभी छात्रें को सपोर्ट दिया जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News