चंद घंटों की ही बारिश ने खोली नगर निगम की पोल, पटना की कई कॉलोनियों की सड़कें बनीं तालाब

चंद घंटों की ही बारिश ने खोली नगर निगम की पोल, पटना की कई कॉलोनियों की सड़कें बनीं तालाब

पटना. बिहार की राजधानी पटना में बुधवारी की भारी बारिश ने लोगों को भयंकर गर्मी से राहत दी। लेकिन नगर निगम की कुव्यवस्था की वजह से लोगों को जलजमाव से दो-चार होना पड़ रहा है। राजधानी की कई कॉलनियों में सड़कें तालाब बन गयी है। इससे लोगों को परेशानी हो रही है।

इस बार बिहार में मानसूनी बारिश बहुत कम ही दर्ज की गयी है। मानसून के शुरुआती हिस्सों में काफी कम ही बारिश देखने को मिली है। करीब आधा समय बीत गया है, लेकिन मानसून सक्रिय नहीं नजर आया। इन सब के बीच जब बुधवार को बारिश हुई तो पटना के नगर निगम की तैयारियों की पोल खुल गयी। कॉलोनियां पानी से भर गया।

बुधवार को बिहार के कई हिस्सों में भारी बारिश हुई है। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है। लेकिन इन राहतों के बीच वज्रपात से पांच लोगों की मौत हो गयी है।वज्रपात से बिहार के सीवान में एक, समस्तीपुर में एक खगड़िया में एक एवं सारण में एक व्यक्ति की मौत हो गयी है। इस पर सीएम नीतीश कुमार ने दुख प्रकट करते हुए कहा कि आपदा की इस घड़ी में प्रभावित परिवारों के साथ हैं। मुख्यमंत्री ने सभी मृतक के परिजनों को तत्काल चार-चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिये हैं।

साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश ने प्रदेश के लोगों से अपील की है कि सभी लोग खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें। खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किये गये सुझावों का अनुपाल करें। सीएम ने लोगों से कहा कि खराब मौसम में घरों में रहें और सुरक्षित रहें।

Find Us on Facebook

Trending News