एक माह की नेत्रहीन बच्ची को मां-बाप ने कर दिया जिंदा दफन

एक माह की नेत्रहीन बच्ची को मां-बाप ने कर दिया जिंदा दफन

BANKA : कोई मां-बाप अपनी एक माह की बच्ची को जिंदा दफन कर सकता है, इस बार पर विश्वास नहीं हो सकता। लेकिन एक सी ही कड़वी सच्चाई बांका जिले से सामने आई है। दरअसल बीती शाम जिले के मनियां पंचायत के कूहका जोर गांव में कुछ लोगों ने एक बच्ची के रोने की आवाज सुनी। जब लोगों ने वहां जाकर देखा तो जमीन में एक डेढ़ माह की बच्ची दफन थी। लोगों ने इसकी सूचना तत्तकाल पंचायत समिति सदस्य मनीष कुमार सुमन को दी। 

सूचना मिलते ही मनीष कुमार तत्तकाल मौके पर पहुंच बच्ची को कटोरिया अस्पताल ले गये। जहां चिकित्सा प्रभारी डॉ. विनोद कुमार ने बच्ची का इलाज किया। बच्ची अब पूरी तरह से स्वस्थ्य है। वहीं अस्पताल में मौजूद कुछ लोगों ने बच्ची को देखा तो उसे पहचान लिया। लोगों ने बताया कि बच्ची कागीसार निवासी सबिता देवी और उपेंद्र यादव की पुत्री है और जन्म से ही नेत्रहीन होने के कारण उसके परिजनों ने उसे जिंदा ही मिट्टी से दफना दिया था। 

ग्रामीणों का कहना है कि बच्ची को सुबह ही दफनाया गया था। बच्ची शाम तक मिट्टी में दबी रही। अब वह चिकित्सक की देखरेख में स्वस्थ है। फिलहाल बच्ची को चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के पास रखा गया है।

Find Us on Facebook

Trending News