बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल, 16 पंचायतों के लोगों के लिए मात्र एक एम्बुलेंस, मरीजों की होती है फजीहत

बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल, 16 पंचायतों के लोगों के लिए मात्र एक एम्बुलेंस, मरीजों की होती है फजीहत

GAYA : गुरुआ प्रखंड के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मात्र एक एम्बुलेंस है। इस एक एम्बुलेंस के सहारे सीएचसी गुरुआ चल रही है। प्रखंड में 16 पंचायतें है। इस प्रखंड की कुल आबादी एक लाख चौरासी हजार दो सौ छियासी है। इतनी बड़ी आबादी के लिए सरकार ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गुरुआ में मात्र एक एम्बुलेंस उपलब्ध कराया है। जो ऊंट के मुंह में जीरा वाली कहाबत साबित हो रही है।

सीएचसी गुरुआ में मौजूद एम्बुलेंस को एक मिनट की भी फुर्सत नही है। पूरे दिन सड़को पर मरीज लेकर भागती फिरती रहती है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रबंधक अभय कुमार सिन्हा ने बताया कि एक एम्बुलेंस से इतनी बड़ी आबादी संभालना कभी कभी मुश्किल हो जाता है। खास कर उस वक्त जब एक ही समय में एम्बुलेंस की कई लोगों की जरूरत पड़ जाती है। स्वास्थ्य प्रबन्धक ने बताया कि सीएचसी में उपलब एम्बुलेंस से लोगों को नि:शुल्क सेवा प्रदान की जाती है। 

उन्होंने बताया कि प्रखंड के वरिष्ठ नागरिक, गर्भवती महिला, बीपीएल परिवार आदि को एम्बुलेंस निःशुल्क दिया जाता है। ज्ञात हो कि गुरुआ प्रखंड क्षेत्र में एक भी निजी एम्बुलेंस नहीं है। विशेष जरूरत पड़ने पर इस प्रखंड के लोग गया, औरंगाबाद आदि जगहों से एम्बुलेंस मंगाते हैं।

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News