उत्तर बिहार के सबसे बड़े अस्पताल SKMCH में OPD सेवा ठप, स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ हुई नारेबाजी

उत्तर बिहार के सबसे बड़े अस्पताल SKMCH में OPD सेवा ठप, स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ हुई नारेबाजी

PATNA : स्टाईपेंड बढ़ाने को लेकर लगातार दूसरे दिन भ जूनियर इंटर्न डॉक्टरों ने विरोध प्रदर्शन जारी रखा। इस दौरान जेआर ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाकर ओपीडी सेवा को बंद करते हुए अपनी मांगों को लेकर  एसकेएमसीएच परिसर में धरना प्रदर्शन पर बैठ गए। बिहार के सभी मेडिकल कॉलेज की तरह SKMCH में भी आज जूनियर इंटर्न डॉक्टर स्टाईपेंड की राशि बढ़ाए जाने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन करते रहे। इस दौरान जूनियर रेसीडेंसी ने कहा कि हमें स्टाईपेंड के रूप में हर दिन 500 रुपए दिए जाते हैं। जो कि एक दिहाड़ी मजदूर से भी कम है। कई सालों से सरकार से इसे बढ़ाने की मांग की जा रही है। लेकिन अब तक उसका पालन नहीं किया जा रहा है। सरकार लगातार जूनियर डॉक्टर्स को धोखा दे रही है। 

अस्पताल में जेआर की हड़ताल के बाद सबसे ज्यादा परेशानी यहां इलाज के लिए आनेवाले मरीजों को उठानी पड़ रही है। जो इलाज नहीं मिलने के कारण परेशान हैं  बता दें कि मुजफ्फरपुर स्थित उत्तर बिहार के सबसे बड़े अस्पताल एसकेएमसीएच में मुजफ्फरपुर सीतामढ़ी शिवहर वैशाली समस्तीपुर जिले के लोग चिकित्सा एवं बड़ी बीमारी में इलाज के लिए आते हैं ऐसे में जूनियर डॉक्टरों का हड़ताल पर जाना मरीजों के लिए गंभीर समस्या सुबह से ही बन रहा। वही  SKMCH में इस दौरान मरीज की बढ़ी मुश्किल तो बड़ी संख्या में मरीज घर लौटने पर हुए मजबूर। SKMCH मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ बी एस झा ने बताया हमने सरकार को आगाह  कराया है।

वहीं हड़ताल पर गए दुनिया डॉक्टरों का कहना है जब तक हमारी मांग पूरी कर हम सभी का वेतन 30 से 35 हजार नहीं किया जाता है तब तक हम लोग अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन एवं हड़ताल जारी रखेंगे।

Find Us on Facebook

Trending News