देवर-भाभी के अफेयर का विरोध पड़ा महंगा, भाई की पीट-पीटकर ली जान, पत्नी को भी धमकाया, थाने में भी नहीं सुनी गई शिकायत...

देवर-भाभी के अफेयर का विरोध पड़ा महंगा, भाई की पीट-पीटकर ली जान, पत्नी को भी धमकाया, थाने में भी नहीं सुनी गई शिकायत...

BHAGALPUR: जिले के मधुसुदनपुर थाना में शुक्रवार की सुबह महमदपुर की रेशमा देवी पति अरविंद तांती की शिकायत लेकर थाने पहुंची। उन्होनें पति पर हत्या करने की धमकी देने का आरोप लगाया। इस दौरान उनके साथ जेठ के अलावा कई ग्रामीण भी मौजूद थे। यह मामला तब उलझा जब पुलिस ने शिकायत दर्ज करने में आनाकानी की। देखते ही देखते महिला ने ग्रामीणों ने महिला के साथ मिलकर जमकर बवाल काटा। 

इस दौरान रेशमा देवी ने बताया कि बुधवार की शाम में उनके पति ने अपने ही बड़े भाई मंगल तांती पर जानलेवा हमला कर दिया। इसके बाद उन्होंने जब शोर मचाना शुरू कर दिया तो उनके जेठ ध्रुव तांती और अन्य परिजनों ने आनन फानन में गंभीर रूप से घायल मंगल तांती को इलाज के लिए मायागंज अस्पताल में भर्ती करवाया। इलाज के दौरान गुरुवार की सुबह मंगल तांती की मौत हो गई। रेशमा देवी की मानें तो उनके पति और मृतक मंगल तांती की पत्नी के बीच में प्रेम प्रसंग था। इस बात को लेकर दोनों भाइयों में पहले भी विवाद हुआ था। वहीं घटना वाले दिन अरविंद तांती ने रेशमा से पहले मारपीट की, जिसके बाद उसने मंगल तांती पर जानलेवा हमला किया। यही नहीं, रेशमा को लगातार अपने ही पति द्वारा जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। अरविंद तांती ने धमकी देते हुए कहा था कि अगर इस हत्याकांड के बारे में किसी को बताया तो तुम्हारा भी वही हाल करूंगा।

पुलिस के सामने ही रेशमा ने बताया कि वह और उनके जेठ ध्रुव इस हत्या के चश्मदीद हैं। बावजूद इसके मधुसुदनपुर थाना में आरोपियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज नहीं की जा रही है। वहीं ध्रुव तांती ने कहा कि पुलिस वाले दलील दे रहे हैं कि भाई के विरूद्ध भाई की शिकायत नहीं ली जा सकती है। उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि मधुसूदनपुर थाना की पुलिस आरोपी अरविंद तांती से मिली हुई है। वहीं दूसरी ओर मधुसूदनपुर थाना की पुलिस के इस रवैए से ग्रामीणों के बीच काफी आक्रोश देखा जा रहा है। नराज ग्रामीणों ने पुलिस अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर शिकायत दर्ज कर पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं करेगी तो सभी गांव वाले मिलकर प्रदर्शन करेंगे। वहीं इन सब के बीच अब सवाल यह भी उठता है कि जब मृतक का भाई और आरोपी की पत्नी खुद हत्याकांड के चश्मदीद गवाह हैं तो फिर पुलिस शिकायत दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई करने से क्यों कतरा रही है?

Find Us on Facebook

Trending News