दहेज के लिए विवाहिता की हत्या करनेवालों की गिरफ्तारी नहीं होने से परिवार में आक्रोश, पुलिस की कार्यशैली पर उठ रहे सवाल

दहेज के लिए विवाहिता की हत्या करनेवालों की गिरफ्तारी नहीं होने से परिवार में आक्रोश, पुलिस की कार्यशैली पर उठ रहे सवाल

SIWAN : सीवान के पचरूखी थाने क्षेत्र के पचरुखी टोला मठिया गांव में एक विवाहिता को दहेज उत्पीड़न के बाद हुई हत्या मामले में 48 घंटा बाद भी आरोपियों की एक भी गिरफ्तारी नही की जा सकी है, जिससे अब मृतका के परिवार में आक्रोश नजर आने लगा है और वह पुलिस के काम पर सवाल उठाते हुए दोषियों को बचाने का आरोप लगा रहे हैं। वहीं थाना अध्यक्ष रितेश मण्डल ने बताया कि सभी आरोपित फरार चल रहे हैं,  छापेमारी चल रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

   मामले में  विवाहिता अंजलि देवी के पिता  छपरा जिले के जनता बाजार थाने के टेलछा निवासी  उपेंद्र पांडेय  ने अपने दामाद सहित  थाने में  4 लोगो के खिलाफ  17 जून को नामजद मुकदमा दर्ज  कराया था, जिसमें उन्होंने बेटी अंजली की हत्या करने की जानकारी दी थी। शिकायत में उन्होंने बताया था कि  मेरी पुत्री से उसके ससुराल वाले  दहेज़ में एक लाख रुपये की मांग कर रहे थे। दहेज की राशि नही देने को लेकर 15 मई  को अंजलि को मार कर साक्ष्य छुपाने के लिए शव को जला दिया गया है।  मामले में  16 जून को पचरूखी थाने में आवेदन पड़ने के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज किया है।दर्ज एफआईआर में मृतिका अंजलि देवी के पति कृष्णा कांत पाण्डे  देवर मनीष पांडेय सास  , सहित ननद महाराज गंज थाने क्षेत्र के   पटेडा निवासी भूषण पांडेय की पत्नी नन्द किरण पांडेय सहित 4 लोगो को कांड 146 /2021 में आरोपित किया है ।

मामले में थाना अध्यक्ष रितेश मण्डल ने बताया कि सभी आरोपित फरार चल रहे है  छापेमारी चल रही है । फिलहाल अब देखना यह होगा कि क्या पुलिस इस मामले में इस वर्ष में किसी भी अभियुवक्तों की गिरफ्तारी कर पाती हैं या फिर केवल परिजनों को असवासन ही देती हैं यह तो आने वाला वक्त ही बता पायेगा ।


Find Us on Facebook

Trending News