पहलवान दिव्या काकरान ने केजरीवाल की ली क्लास- कहा पहले मदद देते तो गोल्ड जीतती

पहलवान दिव्या काकरान ने केजरीवाल की ली क्लास- कहा पहले मदद देते तो गोल्ड जीतती

N4N DESK: अपने पहले ही एशियन गेम्स में महिला पहलवान दिव्या काकरान ने 68 भारवर्ग फ्री स्टाइल स्पर्धा में कांस्य पदक अपने नाम किया. इंडोनेशिया में हुए 18वें एशियन गेम्स में दिव्या ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कांस्य पदक जीतकर भारत का नाम रौशन किया.

खिलाड़ियों को सम्मानित करने का सिलसिला जारी

एशियन गेम्स में मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को सम्मानित करने का सिलसिला जारी है. लेकिन इन सब के बीच भारत वापस लौटे पदक विजेताओं ने अपनी शिकायतें भी सामने रखी हैं. आपको बता दें कि मंगलवार को दिल्ली के उन सभी खिलाड़ियों को जो इंडोनेशिया से पदक जीत कर लौटे हैं, उन्हें सम्मानित करने के लिए आमंत्रित किया गया था. इसी मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से महिला पहलवान दिव्या काकरान ने पर्याप्त सुविधा ना मिलने पर अपनी नाराज़गी जताई.

सुविधा मिलती तो सोना जीतकर भारत आती- दिव्या काकरान 

दिव्या काकरान ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अगर सरकारी सुविधा मिली होती तो वे स्वर्ण पदक जीत कर लौट सकती थी. सम्मान समारोह के दौरान दिव्या ने दिल्ली सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा की एशियन चैम्पियनशिप से लौटने के बाद उन्होंने सरकार से चिट्ठी लिखकर मदद की गुहार लगाई थी, परंतु उन्हें किसी तरह की सहायता मुहैया नहीं कराई गई.

दिव्या ने यह भी कहा कि उनके कोच ने नौकरी छोड़कर खुद के पैसों से बादाम का इंतज़ाम तक किया. नाराज़गी जताते हुए उन्होंने कहा, ‘ऐसे सम्मान का क्या फ़ायदा. खिलाड़ियों को मदद की जरूरत मेडल जीतने के बाद नहीं, बल्कि पहले होती है और तब कोई कुछ नहीं करता ’.  

तीरंदाज़ अभिषेक वर्मा ने भी खड़े किए सवाल

इसी दौरान तीरंदाज़ अभिषेक वर्मा ने भी दिल्ली सरकार के नौकरी देने की पॉलिसी पर सवाल खड़े किए. उन्होंने हरियाणा सरकार का उदाहरण देते हुए कहा कि हरियाणा में खिलाड़ियों को दिल्ली के मुकाबले सरकार कई गुणा राशि और बेहतर नौकरी देती है. दूसरी तरफ़ दिल्ली सरकार के पास ऐसे खिलाड़ियों के लिए कोई अच्छी नीति नहीं है. वह न तो अच्छी नौकरी देते हैं , न ही कोई और सहूलियत.

मुख्यमंत्री ने दिलाया भरोसा 

सम्मान समारोह के दौरान जब खिलाड़ियों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर सवाल खड़े किए तो मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि सरकार जल्द ही ऐसे खिलाड़ियों के लिए एक पॉलिसी लाएगी.

Find Us on Facebook

Trending News