पहले चरण के मतदान के बाद बीजेपी की बढ़ती चिंता, दूसरे और तीसरे चरण में अपने 30 स्टार प्रचारकों से अधिक से अधिक सभाएं कराने की तैयारी

पहले चरण के मतदान के बाद बीजेपी की बढ़ती चिंता, दूसरे और तीसरे चरण में अपने 30 स्टार प्रचारकों से अधिक से अधिक सभाएं कराने की तैयारी

पटना बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान खत्म होने और इंटरनल रिपोर्ट आते ही कई पार्टियों की चिंता बढ़ गई है. चुनाव के पहले चरण की 71 सीटों पर बुधवार को मतदान खत्म हो गया. ऐसे में अब बड़ी पार्टी बीजेपी की निगाहें दूसरे और तीसरे चरण की सीटों पर आ गई है. बीजेपी आखिरी के दोनों चरण के लिए पहले से और अधिक ताकत झोकने के लिए तैयार है. 

सूत्रों का कहना है कि पार्टी नेताओं को एनडीए की मुख्य सहयोगी जदयू की जमीनी रिपोर्ट के बारे में कुछ निगेटिव इनपुट मिले हैं. ऐसे में बीजेपी और ज्यादा ताकत झोंककर चुनाव में एनडीए को किसी भी तरह के नुकसान से बचाना चाहती है. बिहार में कुल 243 में से अभी तीन और सात नवंबर को कुल 172 सीटों पर मतदान होना है. बीजेपी दूसरे और तीसरे चरण में अपने 30 स्टार प्रचारकों से अधिक से अधिक सभाएं कराने की तैयारी में है. घर-घर जाकर प्रचार के लिए भी विशेष तौर पर रणनीति बनाई जा रही है. कुछ स्टार प्रचारकों के कोरोना पॉजिटिव होने के कारण बीजेपी के चुनाव प्रबंधन पर कुछ असर पड़ा है. इससे पार्टी की चिंता गई है.


कोरोना चपेट में ये नेता 

लेकिन, कोरोना पॉजिटिव होने के कारण आइसोलेशन में गए सुशील मोदी, शाहनवाज हुसैन, राजीव प्रताप रूड़ी जैसे नेताओं की भरपाई दूसरे स्टार प्रचारकों से बीजेपी करने में जुटी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक नवंबर और तीन नवंबर को रैलियां कर दूसरे और तीसरे चरण के चुनावों के लिए माहौल बनाएंगे.

बीजेपी सूत्रों का कहना है कि बिहार के कुछ क्षेत्रों में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जदयू को लेकर एंटी इन्कमबेंसी फैक्टर दिख रहा है. हालांकि, लोग जदयू से भले नाराज हैं, लेकिन बीजेपी से नहीं. ऐसे में पार्टी अधिक से अधिक जनसंपर्क और सभाओं के जरिए डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश में है.

Find Us on Facebook

Trending News