पहले आतंकवाद से मुकाबला फिर बनेगा राम मंदिर, 21 फरवरी को शिलान्यास का कार्यक्रम रद्द

पहले आतंकवाद से मुकाबला फिर बनेगा राम मंदिर, 21 फरवरी को शिलान्यास का कार्यक्रम रद्द

NEWS4NATION DESK : पुलवामा में  आतंकवाद का खौफनाक चेहरा देखकर देश आक्रोश में है। हर तरफ आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने की मांग उठ रही है। नापाक पाक को ललकारा जा रहा है। देश के इस मिजाज को देखते हुए साधु-संतों ने भी एलान कर दिया है कि अब पहले आतंकवाद से मुकाबला होगा फिर अयोध्या में रामलला का मंदिर बनेगा। 

द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने एलान कर दिया है कि पहले मंदिर नहीं बनेगा बल्कि आतंक से निपटा जाएगा। स्वरूपानंद सरस्वती ने साफ कह दिया है कि वह नहीं चाहते की देश का ध्यान अभी कहीं और भटके। आतंकवाद देश के सामने मौजूदा वक्त में खड़ी सबसे बड़ी चुनौती है। पुलवामा आतंकी हमले का हवाला देते हुए द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर शिलान्यास और अयोध्या कूच कार्यक्रम स्थगित करने की घोषणा कि है। 

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने अयोध्या में राम मंदिर के शिला पूजन के लिए जाने के लिए रामाग्रह यात्रा का ऐलान किया था। कुंभ के परमधर्म संसद में यह तय हुआ था कि 21 फरवरी को साधु-संतों के साथ अयोध्या पहुंचकर वहां श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए शिला पूजन किया जाएगा। इस ऐलान के बाद अयोध्या में सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। लेकिन अब साधु-संतों ने अयोध्या कूच को रद्द कर दिया है।

Find Us on Facebook

Trending News