दर्दनाक: विधवा महिला को दूधमुंही बच्ची के साथ जलाया, दोनों की मौत, हिरासत में सास

दर्दनाक: विधवा महिला को दूधमुंही बच्ची के साथ जलाया, दोनों की मौत, हिरासत में सास

नवगछिया: जिले में इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आयी है। खबर के अनुसार खरीक थाना क्षेत्र के तुलसीपुर में ससुराल वालों ने विधवा महिला बेचनी देवी को दूधमुंही बच्ची के साथ किरासन तेल डालकर जिंदा जला दिया। जिसमें बच्ची की मौत मौके पर ही हो गयी और महिला को गंभीर हालत में इलाज के दौरान मौत हो गयी। मिली जानकारी के अनुसार सुसराल वालों ने मृतक विनय कापरी की विधवा बेचनी देवी को जिंदा जला दिया गया। घटना में महिला करीब 80 प्रतिशत जल चुकी थी। जिसे खरीक पीएचसी में प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए मायागंज रेफर कर दिया गया। घटना रविवार दोपहर 11 बजे की बतायी जा रही है। लोगों को इसकी भनक तब लगी तब घायल महिला के मायके वाले रविवार की शाम खरीक थाना पहुंचे। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और महिला की सास जयमाला देवी को हिरासत में ले लिया। हालांकि घर के अन्य सदस्य मौके से फरार मिले। 


मायके वालों ने लगाया आरोप

मृतक महिला के मायके वालों ने सुसराल वालों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने पूरी तैयारी के साथ महिला व बच्ची को जिंदा जलाने का प्रयास किया। घटना को दुर्घटना का रूप देने व सुनियोजित साजिश के उद्देश्य से मृतक महिला को इलाज के लिए पीएचसी लेकर आये। उन्होंने यह भी बताया कि पूर्व में भी मृतका को ससुराल वाले काफी प्रताड़ित करते थे। जिसको लेकर कई बार ससुराल वालों को समझाया भी गया था वहीं पड़ोसियों के अनुसार मृतका के घर रोज आपसी विवाद होते रहता था। 

ग्रामीणों ने बताया कि महिला के पति ने बेचनी देवी से दूसरी शादी की थी। पहली पत्नी को भी जहर खिलाकर मार डालने का आरोप था। शादी के बाद कुछ दिनों तक सबकुछ ठीक रहा। इसके बाद करीब ढाई साल पूर्व इनके पति विनय की गंभीर बीमारी से मौत हो गई। जिसके बाद सास, गोतनी, देवर समेत सभी ससुराल वालों ने प्रताड़ित करने लगे। महिला पांच गोतनी है। जिसमें सबसे बड़ी है। वहीं, पुलिस हिरासत में महिला की सास ने बताया कि महिला ने खुद आग लगाई है। पूरे मामले पर थानाध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि महिला की सास जयमाला देवी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। 



Find Us on Facebook

Trending News