गिरिडीह में पंखे से झूलता मिला विवाहिता का शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

गिरिडीह में पंखे से झूलता मिला विवाहिता का शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

GIRIDIH : गिरिडीह के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के डाड़ीडीह स्थित एक घर पर गुरुवार की दोपहर 30 वर्षीय विवाहिता पाकिजा बानो का शव संदिग्ध रुप से फांसी के फंदे में झूलता हुआ मिला. ससुराल वाले मामले को आत्महत्या साबित करने के प्रयास में है तो मायके वाले पाकिजा के संदिग्ध मौत के मामले को दहेज में एक लाख नहीं दिए जाने के कारण मामला हत्या का बता रहे है. 

मृतिका का मायके पचंबा थाना क्षेत्र के नरेन्द्रपुर गांव की रहने वाली थी. जबकि उसका ससुराल डाड़ीडीह था. मृतिका के पिता रियाज मियां समेत परिजनों ने पाकिजा बानो के पति मो. इमरान उर्फ बबलू समेत ससुराल वालों पर दहेज में एक लाख नहीं दिए जाने के कारण हत्या का आरोप लगाया है. इस बीच घटना की जानकारी मिलने के बाद महतोडीह पिकेट से पुलिस भी पहुंची. लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले ही पाकिजा बानो के शव आरोपी पति समेत ससुराल वाले सदर अस्पताल पहुंचाकर वापस घर लौट गए थे. इसके बाद पाकिजा के पति इमरान ने उसके पिता को जानकारी देते हुए बताया कि उनकी बेटी ने घर पर फांसी लगाकर सुसाईड कर ली है और शव सदर अस्पताल में रखा हुआ है. 

बहरहाल, मामला हत्या का है या आत्महत्या का. मुफ्फसिल थाना पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. लेकिन हैरानी की बात यह है कि पति समेत सभी आरोपियों के घर पर रहते हुए भी पुलिस ने किसी आरोपी को पूछताछ के लिए हिरासत में नहीं लिया. हालांकि पाकिजा के मौत की चर्चा डाड़ीडीह मुहल्ले के स्थानीय लोगों के बीच भी है. 

स्थानीय लोगों के बीच चर्चा इस बात को लेकर है कि जिस कमरे में मृतिका का शव फंदे में झूलता हुआ मिला. उस फंदे से जमीन की उंचाई बेहद कम है. लिहाजा, मृतिका ने आखिरकार फांसी किस प्रकार लगाई. इसे लेकर मुहल्ले वाले भी सवाल उठा रहे है. इधर अस्पताल पहुंचे परिजनों ने पति इमरान और देवर इरशाद समेत ससुराल के अन्य सदस्यों पर पाकिजा की हत्या का आरोप लगाते हुए कहा कि इमरान कई महीनों से एक लाख लाने की जिद्द अपनी पत्नी पाकिजा से कर रहा था. लेकिन आर्थिक हालात खराब रहने के कारण मायके वाले भी पैसे नहीं दे पा रहे थे. 

गिरिडीह से चन्दन पाण्डेय की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News