पारा शिक्षकों ने दिया सरकार को दिया अल्टीमेटम, 5 सितम्बर तक नियमावली गठित नहीं होने पर होगा आन्दोलन

पारा शिक्षकों ने दिया सरकार को दिया अल्टीमेटम, 5 सितम्बर तक नियमावली गठित नहीं होने पर होगा आन्दोलन

DHANBAD : स्थायीकरण के मुद्दे पर सरकार की ओर से नियमावली गठित करने में विलंब होने के विरोध में राज्य भर के 65 हजार पारा शिक्षकों ने एक बार फिर से आंदोलन का शंखनाद किया है. रविवार को एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा ने राज्य भर में आक्रोश पूर्ण रैली सह न्याय यात्रा निकाला.धनबाद के गोल्फ ग्राउंड से रैली शुरू होकर मिश्रित भवन, सिटी सेंटर, उपायुक्त आवास, कोर्ट मोड़ होते हुए रणधीर वर्मा चौक पहुँचकर धरना में तब्दील हो गई. धरने में पारा शिक्षकों ने बीजेपी हाय हाय के नारे लगाए.

वहीँ संघ के जिला सचिव मो0 शेख सिद्दिकी ने कहा कि स्थायीकरण के सवाल पर नियमावली बनाने को लेकर 17 जनवरी 2019 को सरकार के साथ समझौता वार्ता हुई थी. सरकार की तरफ से नियमावली बनाने में 90 दिन का समय मांगा गया. आज 90 दिन के बजाय 180 दिन बीत जाने के बाद भी सरकार ने नियमावली पर कोई पहल नही की है. 

उन्होंने कहा कि रघुवर सरकार पारा शिक्षकों के साथ वादा खिलाफी कर रही है. पारा शिक्षकों को सरकार आश्वासन देकर छोड़ देती है और बाद में अपने वादे से मुकर जाती है. जिले में पारा शिक्षको की संख्या 2869 है. उन्होंने कहा कि पारा शिक्षक आर्थिक तंगी के शिकार होकर किसी न किसी रूप में मर रहे हैं. 

इसके बावजूद सरकार हमारा शोषण कर रही है. अब सरकार के साथ आरपार की लड़ाई लड़ी जाएगी. वही संघ के जिला सचिव ने कहा कि 5 सितम्बर तक नियमावली गठित नही होने पर रांची में उग्र आंदोलन किया जाएगा. राज्य भर के 65 हजार पारा शिक्षक आंदोलन में शामिल होंगे.

धनबाद से अजय उपाध्याय की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News