पटना में एक प्रेमिका अपनी मोहब्बत को बचाने के लिए पहुंची थाने कहा- नहीं हुआ है मेरा अपहरण, हम दोनों प्यार करते है साथ जिएंगे साथ मरेंगे

पटना में एक प्रेमिका अपनी मोहब्बत को बचाने के लिए पहुंची थाने कहा- नहीं हुआ है मेरा अपहरण, हम दोनों प्यार करते है साथ जिएंगे साथ मरेंगे

पटना: राजधानी पटना से एक ऐसी मामला सामने आई है. जिसने सबको हैरान कर दिया है. दरअसल, एक लड़की ने अपने आशिक को पाने की चाहत में घर से भागने का फैसला कर लिया और वो अपने आशिक के साथ घर से भाग निकली. आखिर में उसे अपनी मोहब्बत तो मिल गई. लेकिन परिवार वाले अपनी लाडली को कैसे यूं ही जाने देते. तो उन्होंने कानून का सहारा लिया और मामला थाना पहुंच गया. यह मामला पटना के नौबतपुर थाना इलाके की है.

इधर लड़की के परिजनों ने स्थानीय थाने में लड़की के अपहरण का शिकायत दर्ज करा दी. लेकिन इन सबके बीच लड़की ससुराल ना जाकर वो सीधे थाने पहुंच कर खूब हंगामा किया. जिससे थाने में तमाशबीनों का मजमा लग गया. उसने पुलिस को अपनी प्रेम कहानी सुनाई. उसने पुलिस को बताया कि हम दोनों बालिक है और मेरा अपहरण नहीं हुआ था. मै अपनी मर्जी से घर से भागी थी. मैं रोशन से बहुत प्यार करती हूं. दोनों ने शादी भी कर लिए है. लेकिन मेरे घरवाले साथ में नहीं रहने दे रहे है. इससे पहले वह दोनों पटना भागे थे. पटना में ही दोनों ने एक मंदिर में शादी की थी. 


कुछ दिनों के बाद दोनों कोर्ट में शादी करने वाले थे.उसने बताया कि वह अपने पति के साथ रहना चाहती है. लड़की ने कहा कि उसके घरवाले उसका मर्डर करा देंगे. लड़की पुलिस से गुहार लगा रही है कि मेरे दोनों परिवार को हानि ना पहुंचाया जाए. लड़की ने अपने घरवालों के ऊपर आरोप लगाया कि परिजनों द्वारा उसके ससुराल के लोगों को परेशान किया जा रहा है. हम दोनों की शादी से मेरे घरवाले खुश नहीं है. उसने आगे बताया कि दोनों के बीच दो साल से अफेयर चल रहा था और हम दोनों 2 साल से रिलेशनशिप में भी थे. 

पुलिस के मुताबिक लड़की नौबतपुर के तिवारीचक निवासी विजय पासवान के पुत्र रोशन से प्यार करती है. वह अपने प्रेमी के साथ घर से फरार हो गई थी. घर से भागकर दोनों ने मंदिर में शादी रचाई है. लड़का कम पढ़ा लिखा था और वो मजदूरी का काम करता है उसकी प्रेमिका पढ़ी लिखी एक मॉडर्न ख्यालात की लड़की है. नौबतपुर थानाध्यक्ष सम्राट दीपक ने बताया कि पुलिस ने लड़की को कस्टडी में लेकर 164 का बयान दर्ज कराने के लिए दानापुर न्यायालय में भेज दी है. थानाध्यक्ष का कहना है कि न्यायालय के आदेश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.


Find Us on Facebook

Trending News