पटना के 180 सरकारी कर्मचारियों के वेतन पर रोक, डीएम ने मांगा स्पष्टीकरण

पटना के 180 सरकारी कर्मचारियों के वेतन पर रोक, डीएम ने मांगा स्पष्टीकरण

PATNA : पटना के विभिन्न सरकारी कार्यालयों में कार्यरत 180 कर्मचारियों के वेतन पर रोक लगा दी गई है। डीएम कुमार रवि ने उपस्थिति की जांच के लिए गठित धावा दल की रिपोर्ट के बाद कार्रवाई करते हुए पटना कोषागार को वेतन भुगतान नहीं करने को कहा है। 

दरअसल कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति की जांच के लिए गठित धावा दल ने पिछले 20 दिनों में 31 कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया था। 

जांच के दौरान धावा दल ने जिला परिवहन कार्यालय में 41, डीआरडीए के 14, जिला योजना कार्यालय के नौ, जिला प्रोग्राम कार्यालय के आठ, जिला नजारत शाखा और जिला भू-अर्जन कार्यालय के सात-सात, जिला कोषागार के छह, न्यू गार्डिनर हॉस्पिटल के चार, जिला पंचायत राज कार्यालय के चार कर्मचारी को अनुपस्थित पाया था। 

जांच टीम ने अपनी रिपोर्ट पटना जिलाधिकारी को सौंप दी है। जिसके बाद डीएम कुमार रवि ने इन कर्मचारियों के वेतन पर रोक लगाते हुए स्पष्टीकरण मांगा है। 

धावा दल के अधिकारियों ने बताया कि स्पष्टीकरण का जवाब आने के बाद ही वेतन भुगतान की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। 

दरअसल सरकारी कार्यालयों में कार्यरत जो अधिकारी समय पर कार्यालय नहीं पहुंचने की सूचना वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से देते हैं, उनकी या तो उस दिन की उपस्थिति नहीं ली जाती है या उनसे स्पष्टीकरण पूछा जा रहा है। 24 जुलाई को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का एक माह पूरा हो जाएगा। 

डीएम कुमार रवि का कहना है कि धावा दल और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से उपस्थिति लेने से कार्यालयों में अधिकारियों और कर्मचारियों की उपस्थिति काफी रह रही है। इससे निगरानी की जा रही है कि कौन अधिकारी ड्यूटी से गायब हैं ताकि कार्रवाई की जा सके। 

Find Us on Facebook

Trending News