पटना जिला शिक्षा पदाधिकारी ने शिक्षकों को कार्यालय आने पर लगाई रोक..माध्यमिक शिक्षक संघ ने DEO से तुगलकी फरमान वापस लेने को कहा

पटना जिला शिक्षा पदाधिकारी ने शिक्षकों को कार्यालय आने पर लगाई रोक..माध्यमिक शिक्षक संघ ने DEO से तुगलकी फरमान वापस लेने को कहा

PATNA: पटना के जिला शिक्षा पदाधिकारी ने शिक्षक और कर्मियों को डीईओ कार्यालय आने पर रोक लगा दी है।पटना के डीईओ ज्योति कुमार ने इस संबंध में आदेश जारी किया है।

अपने आदेश में डीईओ ने कहा है कि यह देखा जा रहा है कि कार्य अवदि में आगंतुकों शिक्षक एवं अन्य कार्यालय कर्मी के पास बैठे रहते हैं।जिससे कार्य प्रभावित हो रहा है।लिहाजा यह आदेश दिया जाता है कि जिले के शिक्षक कार्यालय आने से पहले अपने नियंत्री पदाधिकारी से अवकाश स्वीकृत कराकर हीं डीईओ कार्यालय आयें।साथ हीं कार्यालय के गेट पर आगंतुक पंजी में आने का उद्देश्य अंकित करें।

डीईओ के आदेश के बाद माध्यमिक शिक्षक संघ ने तुगलकी आदेश को अविलंब वापस लेने की मांग की है।संघ के पटना के सचिव चंद्रकिशोर कुमार व पटना जिला माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव सुधीर कुमार ने कहा कि जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय कोई दर्शनीय स्थल या पार्क नहीं है जहां शिक्षक सुदूर क्षेत्रों से अपना पैसा खर्च कर यहां आकर बैठते हैं। जिला शिक्षा पदाधिकारी पटना तथा उनके अधीनस्थ पदाधिकारियों द्वारा प्रत्येक दिन फरमान जारी कर विद्यालयों से कभी कोई आंकड़ा, प्रपत्र, सीडी, अभिलेख, कागजाताओं, पंजी आदि मांग उनके कार्यालय में उपस्थापित या जमा करने का निदेश दिया जाता है। चूंकि अधिसंख्य विद्यालयों में लिपिक व आदेशपाल नहीं है इस कारण उनके कार्य शिक्षक को करना पड़ता है और जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में मजबूरन जाना पड़ता है। इस तरह शिक्षक उनके कार्यालय के कार्य से ही तथा कार्यालय के सहयोग के लिए ही आते हैं।  

संघ ने कहा कि डीईओउन्होंने कहा कि इस तरह के तुगलकी आदेश अविलंब वापस लिया जाए और शिक्षकों पर बेवजह आरोप लगाने के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी माफी मांगें।

Find Us on Facebook

Trending News