मांग जल्द पूरी नहीं हुई तो पटना जिला के शिक्षक परीक्षा का करेंगे बहिष्कार

मांग जल्द पूरी नहीं हुई तो पटना जिला के शिक्षक परीक्षा का करेंगे बहिष्कार

PATNA :  पटना जिला व प्रमंडल माध्यमिक शिक्षक संघ ने अपनी मांगों को पूरा नहीं किए जाने पर इंटरमीडियए परीक्षा का बहिष्कार किये जाने का ऐलान किया है। संघ का कहना है कि यदि सरकार ने जल्द ही उनकी मांगों को पूरा नहीं किया तो वे लोग परीक्षा के वहिष्कार के साथ-साथ सड़क पर उतर कर आंदोलन करेंगे। 

पटना प्रमंडल माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव चंद्रकिशोर कुमार और पटना जिला माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव सुधीर कुमार ने बताया कि गत वर्ष जून माह में जिला शिक्षा पदाधिकारी और संघ के बीच हुए समझौते का पूरी तरह से अनुपालन अबतक नहीं हो पाना जिला शिक्षा कार्यालय की लापरवाही, अकर्मण्यता और मनमानी का घोतक है। 

उन्होंने कहा कि गत वर्ष आवंटन रहने के वाबजूद भी नियोजित शिक्षकों व पुस्तकालयध्यक्षों को सातवें वेतन की अनुशंसा के आलोक में बकाया अंतर राशि का वेतन नहीं दिया गया और राशि कार्यालय द्वारा सरेंडर कर दिया गया।  वहीं इस वर्ष भी अबतक कभी आवंटन तथा कभी ट्रेजरी लॉक का बहाना बना कर नियोजित शिक्षकों व पुस्तकालयाध्यक्षों को बकाया अंतर राशि का भुगतान नहीं किया गया है। अब जबकि आवंटन भी प्राप्त है तथा ट्रेजरी लॉक की भी समस्या समाप्त हो गई है तो इस कार्य में लगे संबंधित लिपिक को हटा कर अपने खास  लिपिक को भुगतान संबंधित प्रभार लेने का आदेश जारी करना स्पष्ट करता है कि अनावश्यक रूप से भुगतान में विलंब हो तथा शिक्षकों से भुगतान के एवज में वसूली की जा सके। 

सचिव ने कहा कि जब से ज्योति कुमार पटना जिला शिक्षा पदाधिकारी के पद पर पदस्थापित हुए हैं अनावश्यक रूप से मनमाने ढ़ग से कार्यालय के कर्मियों का काम का आवंटन प्रत्येक दस दिन पर बदलते रहते हैं जिससे न सिर्फ काम में बाधा होती बल्कि काफी त्रुटियां भी होती रहती हैं जिसका खामियाजा विद्यालय व शिक्षकों को भुगतना पड़ता है।  

उन्होंने कहा कि यदि नियोजित शिक्षकों का वकाया अंतर वेतन का भुगतान तथा शिक्षकों के लंबित मामलों का निष्पादन जल्द से जल्द नहीं किया जाता है तो आगामी इंटर व मैट्रिक की परीक्षा कार्य का पटना जिला के शिक्षक बहिष्कार करेंगे तथा जिला शिक्षा कार्यालय के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे और इन सबों के लिए पटना जिला शिक्षा पदाधिकारी पूरे जिम्मेवार होंगे।

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News