फरियादी से अपराधी जैसा सलूक करती है राजधानी पटना के पत्रकारनगर थाना की पुलिस

फरियादी से अपराधी जैसा सलूक करती है राजधानी पटना के पत्रकारनगर थाना की पुलिस

पटनाः एक तरफ पटना पुलिस पब्लिक फ्रेंडली होने की बात करती है, वहीं दूसरी ओर अगर आप कोई परेशानी में हैं और मदद लेने थाना में चले गए तो पुलिस वाले आपसे अपराधी जैसा सलूक करते हैं।

आज एक बार फिर से यह वाकया राजधानी पटना के पत्रकारनगर थाने में देखने को मिला।जब एक छात्र मोबाईल छिनतई का कंप्लेन लेकर थाना गया तो पुलिस वाले उसे ऐसे घूरकर देखने लगे जैसे वही अपराधी हो।

छात्र मोबाईल छिनतई का कंप्लेन पेपर लेकर इस बाबू से उस बाबू तक चक्कर लगाता रहा लेकिन कोई पुलिसवाला सुनने को तैयार नहीं था।उल्टे अब उस पुलिसवाले थाने से भगाने पर तुल गए।जब वह कंप्लेन पेपर देने की जिद पर अड गया तो अपराधियों के आगे बौनी दिखने वाले पुलिसवाले  फरियादी से ऐसे दबंगई से पेश आने लगे कि बेचारा वह छात्र परेशान हो गया।उसकी मदद को आगे आए पत्रकारिता  की पढ़ाई कर रहे दो छात्र मनीष और नीरज को थाने के मौजूद पुलिसकर्मियों ने धक्के और गालियां दी।

थाने में मौजूद क्विक मोबाइल के 4-5 पुलिस के जवान बदतमीजी से पेश आ रहे थे।वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को लग रहा था कि वह उन्हीं के खिलाफ कंप्लेन लेकर आया हो।

पत्रकारनगर थाने की दबंग पुलिस के आगे तीनों की एक न चली।इसके बाद तीनो बैरंग वापस लौट गए।लौटते-लौटते थाने में मौजूद पुलिस वाले ने कहा कि जहां जाना है जाओ कंप्लेन करो उऩलोगों का कुछ बिगड़ने वाला नहीं।

हालांकि इस दौरान वहां थानाध्यक्ष मौजूद नहीं थे।थानेदार की गैरमौजूदगी में हीं पुलिसवाले फरियादी से गुंडागर्दी करने पर उतारू थे।

Find Us on Facebook

Trending News