कोरोना जोन बन चुके पटना में प्रशासन की भारी चूक, कोरोना पॉजिटिव क्लर्क के संपर्क में आने वाले कर्मी जंक्शन पर काट रहे हैं टिकट

कोरोना जोन बन चुके पटना में प्रशासन की भारी चूक, कोरोना पॉजिटिव क्लर्क के संपर्क में आने वाले कर्मी जंक्शन पर काट रहे हैं टिकट

पटना : राजधानी पटना में कोरोना के तेजी से फैलते संक्रमण के बीच भी बड़ी लापरवाही की खबर सामने आई है. पटना में कोरोना के रोकथाम को लेकर कई इंतजाम के बीच ये लापरवाही पटना पर भारी पड़ सकती है. जंक्शन स्थित आरक्षण काउंटर में कार्यरत महिला बुकिंग क्लर्क की तबीयत खराब हुई, तो कोरोना जांच के लिए सैंपल दिया. महिला कर्मी की जांच रिपोर्ट 26 जुलाई को मिली, जिसमें कोरोना के लक्षण मिले. इसके बाद महिला कर्मी को आइसोलेशन पर भेज दिया गया. 

लेकिन, संक्रमित महिला कर्मी के साथ काम करने वाले सात बुकिंग क्लर्क से ड्यूटी लिया जा रहा है. जंक्शन पर कार्यरत बुकिंग क्लर्क ने बताया कि संपर्क में आने वाले दो कर्मी सीएल लेकर छूटी पर चले गये है और हम पांच कर्मी रोजाना काउंटर पर बैठ रहे है.

गौरतलब है कि राजेंद्र नगर टर्मिनल के काउंटर पर भी दो कर्मी कोरोना पॉजिटिव मिले, तो संपर्क में आने वाले कर्मियों को होम कोरेंटिन पर भेज दिया गया. इससे काउंटरों की संख्या भी घटा दी गयी है. लेकिन, पटना जंक्शन पर कर्मियों से काम लिया जा रहा है. रेलवे अधिकारी बताते हैं कि अगर संक्रमित कर्मी के संपर्क वाले कर्मी से ड्यूटी लिया जा रहा है, तो तत्काल होम कोरेंटिन पर भेजा जायेगा.      

Find Us on Facebook

Trending News