पटना त्रासदी में राजद के राजकुमार को न देख 'सिद्दिकी' ने कसी कमर, तीन दिनों से पीड़ितों के सेवा में जुटे हैं

पटना त्रासदी में राजद के राजकुमार को न देख 'सिद्दिकी' ने कसी कमर, तीन दिनों से पीड़ितों के सेवा में जुटे हैं

PATNA: राजद के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी आपदा पीडित राजधानी वासियों की सेवा में पिछले 3 दिनों से जुटे हैं। वे यथासंभव पीड़ितों की मदद कर रहे हैं।लेकिन राजद के राजकुमार और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव गायब हैं। वे दिल्ली में बैठकर ट्वीट पर ट्वीट कर रहे हैं। वे इस विपदा की घड़ी में भी पटना आना और पीड़ितों की मदद के लिए सड़कों पर उतरना मुनासिब नहीं समझ रहे । पार्टी के कई छोटे-बड़े नेता तो दिन-रात पीड़ितों की सेवा में लगे हैं। लेकिन सेनापति हीं मैदान छोड़कर गायब है।

 नेता प्रतिपक्ष के नाते वे सिर्फ ट्वीट कर नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हैं. मुख्य विपक्ष होने के नाते सड़कों पर उतर कर सरकार की नाकामयाबियों को पोल खोलने का यह शायद अच्छा अवसर था। नेता प्रतिपक्ष के नाते उनकी भी जिम्मेदारी थी कि जब राजधानी के हजारों लोग जीवन-मौत के बीच जुझ रहे हों वैसे में पीड़ितों की मदद को आगे आएं।लेकिन वे ट्वीट कर सरकार पर निशाना साध कर अपनी जिम्मेदारी पूरी कर ले रहे हैं।

पिछले कुछ महीनों के दौरान बिहार में कई दफे आपदा आई है।कुछ समय पहले हीं उत्तर बिहार के 12 जिलों में भयंकर बाढ़ आई।बाढ़ से लाखों की आबादी प्रभावित हुई। लेकिन तेजस्वी यादव गायब रहे।सुशासन की सरकार को घेरने का मजबूत अवसर मिला लेकिन वे बाढ़ प्रभावित इलाकों में जाने की बजाए अज्ञातवास पर रहे। चमकी बुखार से सैकड़ों बच्चों की जान चली गई।करीब एक महीना तक मुजफ्फरपुर और आसपास के जिलों में में अज्ञात बीमारी से सैकड़ों बच्चे मरते रहे लेकिन नेता प्रतिपक्ष सीन से गायब रहे।

अब एक बार फिर से तेजस्वी यादव गायब हो गए हैं।राजधानी पटना के लोग पिछले छह दिनों से त्राहिमाम कर रहे हैं। हजारों की आबादी आज भी अपने घरों में कैद है।कुछ मोहल्लों में आज भी स्थिति नारकीय बनी हुई है।सरकारी सिस्टम फेल हो गया है।यूं कहें कि सुशासन राजधानी पटना में पानी-पानी हो गया है।बावजूद इसके नेता प्रतिपक्ष गायब हैं।यह अलग बात है कि कि इन छह दिनों में एक दर्जन से अधिक ट्वीट कर नीतीश सरकार पर निशाना साधने से नहीं चुके हैं।

राजद नेता ने की मार्मिक अपील

तो दूसरी ओर राजद के वरिष्ठ नेता अब्दूल बारी सिद्दीकी पिछले तीन दिनों से पटना के बाढ़ ग्रस्त इलाकों का भ्रमण कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि लोगों की परेशानी और दुःख का अंदाज़ा लगाना आसान नहीं है।चूक जहाँ भी हुई और जैसे भी हुई, इसका असर तो आम लोगों के जीवन पर ही पड़ता है। सिद्दिकी ने सभी जन प्रतिनिधियों से अपील की है कि जो भी सक्षम व्यक्ति हैं आप अभी सारे मतभेदों को भुला कर लोगों के मदद के लिए आगे आएं। पटना में कई युवाओं ने और समाज सेवी संस्थानों ने निस्वार्थ भाव से काम किया है, उन्होंने हम सभी को आइना दिखाने का भी काम किया है। कई जगह स्थिति काफी विकट है। लोग परेशान हैं। आशा करता हूँ की जल्द ही उनकी परेशानी दूर हो। 

लोकतंत्र लोक से हीं है

राजद नेता ने मार्मिक अपील करते हुए कहा कि जिस राज्य और शहर ने हमें वो बनाया हो जो हम आज हैं, हमें अपने दायित्वों को याद करके उसपर खरा उतरने की ज़रूरत है।लोगों से हीं लोकतंत्र बनता है, वो तंत्र किसी काम का नहीं होगा जिसमे लोगों की समस्याएं और ज़रूरतों का निदान ना हो।

Find Us on Facebook

Trending News