कांग्रेस नेता ललन कुमार को बचाने में जुटी पटना पुलिस! कार्रवाई के नाम पर पीड़िता का बार-बार लिया जा रहा स्टेटमेंट, पुलिस मुख्यालय का आदेश भी बेअसर

कांग्रेस नेता ललन कुमार को बचाने में जुटी पटना पुलिस! कार्रवाई के नाम पर पीड़िता का बार-बार लिया जा रहा स्टेटमेंट, पुलिस मुख्यालय का आदेश भी बेअसर

PATNA: बिहार यूथ कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ललन कुमार पर हरियाणा के गुरुग्राम की एक दंपत्ति को झूठे मुकदमे में फंसाने का आरोप है। इस मामले में दंपत्ति को 13 महीने जेल में गुजारने पड़े थे। पीड़ित दंपत्ति ने इस मामले की शिकायत पटना पुलिस से की थी लेकिन पीड़ित दंपत्ति का आरोप है कि पुलिस इस मामले में ललन कुमार के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

मिथिलेश सिंह ने कहा कि कोतवाली डीएसपी अब तक तीन बार उनका स्टेटमेंट ले चुके हैं लेकिन मुख्यालय के आदेश के बाद भी अब तक दर्ज मुकदमे में जांच रिपोर्ट नहीं निकाली गई है। उन्होंने कहा कि अब न्याय के लिए गृह मंत्रालय के पास गुहार लगाउंगी। 

उन्होंने कहा कि एडीजी अमित कुमार ओर सीआईडी एडीजी विनय कुमार के एक्शन के बाद उन्हें न्याय की उम्मीद जगी थी लेकिन अब तक पटना पुलिस ने ललन कुमार के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। मिथिलेश सिंह ने आरोप लगाया कि ललन कुमार का पुलिस के अधिकारियों के साथ सांठगांठ है जिसके कारण अब तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हो पायी है।

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता ललन कुमार और उनकी पत्नी कनक शर्मा पर हरियाणा के निर्भय सिंह व उनकी पत्नी मिथिलेश सिंह को गलत ढंग से फर्जी मुकदमे में  फंसाने के आरोप है।

बताया जा रहा है कि हरियाणा के गुडगांव निवासी मिथिलेश सिंह और उनके पति निर्भय सिंह से कांग्रेस नेता की पत्नी कनक शर्मा का नजदीकी संबंध था।इसी नजदीकी और विश्वास आधारित संबंधों का लाभ उठाते हुए कांग्रेस नेता ललन कुमार ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर हरियाणवी दंपत्ति की संपत्ति हड़पने की साजिश रची थी।  

Find Us on Facebook

Trending News