एसएसपी ने पटना महिला थाना प्रभारी को जारी किया शोकॉज, एफआईआर दर्ज करने में आनाकानी को लेकर कार्रवाई

एसएसपी ने पटना महिला थाना प्रभारी को जारी किया शोकॉज, एफआईआर दर्ज करने में आनाकानी को लेकर कार्रवाई

PATNA : राजधानी के एक मात्र महिला थाना में आए दिन पीड़िता न्याय की उम्मीद लेकर आती हैं। बताया जाता है कि थाने में न्याय के बदले फटकार देकर उन्हें बैरंग वापस भेज दिया जाता है। जानकारी के अनुसार महिला थाना प्रभारी स्मिता कुमारी ने जब से महिला थाना की कमान संभाली है तब से बहुत कम मामले दर्ज किए गए हैं।

 एफआईआर दर्ज करने में आनाकानी का आरोप

बता दें कि 22 दिसम्बर को स्मिता कुमारी ने पदभार लिया था । महिला थाना में 22 दिसम्बर से 31 दिसंबर तक महज 3 ही मामला दर्ज किया गया है। वहीं जनवरी महीने में भी 5 के कम ही एफआईआर दर्ज किया गया है। बताया जाता है कि फरियादी तो आए दिन आते हैं किंतु महिला थाना से न्याय के बदले पीड़िता को मायूसी हाथ लगती है।

इस बात की जानकारी जब पुलिस विभाग के आलाधिकारियों को मिली तो आईजी नैय्यर हसनैन खां ने पटना के एसएसपी गरिमा मलिक को जांच का आदेश दिया था।जिसके बाद एसएसपी ने मंगलवार को गहन समीक्षा करने के बाद महिला थाना प्रभारी को शोकॉज नोटिस जारी करते हुए स्पष्टीकरण की मांग किया है।

बता दें कि इससे पहले भी दो सगी बहनों ने महिला थाना प्रभारी पर मामला दर्ज न करने की शिकायत मीडिया से की थी। तब इस खबर ने मीडिया में सुर्खिया बटोरी थी। आरोप है कि महिला थाना प्रभारी ने इस मामले को रफा-दफा कर दिया। 

Find Us on Facebook

Trending News