सरकार को सीधे ठेंगा दिखा रहे हैं पटना वाले मुखिया जी, सीएम के ड्रीम प्रोजक्ट में सेविका को वार्ड सचिव बना राशि निकासी का लगा आरोप

सरकार को सीधे ठेंगा दिखा रहे हैं पटना वाले मुखिया जी, सीएम के ड्रीम प्रोजक्ट में सेविका को वार्ड सचिव बना राशि निकासी का लगा आरोप

PATNA : पटना में एक मुखिया जी के ऊपर गंभीर आरोप लगा है। आरोप है कि सात निश्चय योजन के अंतर्गत कराए जा रहे कार्यो में 30 लाख की राशि गलत तरीके से निकासी कर लेने का आरोप कई वार्ड सदस्यों ने मुखिया के ऊपर लगाया है। 

इसके लिए वार्ड सदस्यों ने सीएम व डीएम को लिखित पत्र भेजा है। इधर  ग्रामीण ने भी बीडीओ से कार्रवाई की माग की है। मामला पटना से सटे नौबतपुर प्रखंड के चक चेचौल पंचायत का है। उपमुखिया अंजू देवी, वार्ड संख्या 3 के सदस्य मोती कुमार, वार्ड 8 के सदस्य रजनीश सिंह, वार्ड संख्या 9 के सदस्य नितेश कुमार ने मुख्यमंत्री जिलाधिकारी उपविकास आयुक्त एसडीओ समेत कई अधिकारियों को भेजे पत्र में मुखिया राज कुमार यादव पर योजनाओं के क्रियान्वयन में राशि निर्गत करने को लेकर पक्षपात करने का आरोप लगाया है। पत्र में कहा गया है कि राशि की निकासी के लिए आगनवाड़ी सेविका को ही वार्ड सचिव बना दिया गया है। नली-गली पक्कीकरण योजना में तय राशि से ज्यादा खर्च की गई है। जब कि सरकार के सचिव द्वारा 2017 में पत्र निर्गत कर निदेशित किया है कि इस योजना से एक वार्ड में 13 लाख से ज्यादा की राशि खर्च नहीं करनी है। जब कि वार्ड संख्या 2,3,8 एवं 9 में कोई भी राशि नली गली योजना में नही दी गई है। वही नल जल योजना में भी वार्ड संख्या 1 में मात्र 3 लाख की राशि दी गई है।

 इस संबध में नौबतपुर प्रखण्ड विकास पदाधिकारी नीरज आनंद ने बताया कि सात निश्चय योजना अंतर्गत नली गली योजना में एक वार्ड में 13 लाख से ज्यादा खर्च करने का प्रावधान नही है। अगर किसी के द्वारा ऐसा किया जाता है तो वह पंचायती राज विभाग के वितीय नियमावली के खिलाफ है। उन्होंने बताया कि नौबतपुर प्रखंड के चक चेचौल पंचायत में अनियमितता को लेकर शिकायत की बात आयी है। जांच के बाद कारवाई करने की बात उन्होंने कही है। इधर मुखिया ने कहा कि किरण जब सचिव बनीं थीं तो सेविका नहीं थी। बाद में उसका चयन सेविका के पद पर हो गया था। नौबतपुर प्रखंड के चक चेचौल पंचायत के वार्ड सदस्यों ने सीएम, डीएम डीडीसी व एसडीओ से की जाच की माग।गौरतलब है कि नौबतपुर प्रखंड के अजवां पंचायत का मामला अभी ठंडा भी नही पड़ा कि तब तक यह दूसरे मामला चक चेचौल पंचायत में 30 लाख की गलत तरीके से निकासी करने का आया सामने।

Find Us on Facebook

Trending News