बेगूसराय गोलीबारी कांड से लोगों में दहशत, क्या जानते हैं विश्व का सबसे छोटा साइको किलर इसी जिले से था, पढ़िए...

बेगूसराय गोलीबारी कांड से लोगों में दहशत, क्या जानते हैं विश्व का सबसे छोटा साइको किलर इसी जिले से था, पढ़िए...

Desk. पिछले कुछ दिनों पहले बिहार के बेगूसराय में हाईवे पर 30 किलोमीटर तक गोलीबारी की गयी थी। उस दौरान बेखौफ बाइक सवार अपराधियों ने 11 लोगों को गोली मार दी थी, जिसमें एक लोगों की मौत हो गयी, जबकि 10 लोग गंभीर रूप से घायल हो गये। इस वारदात से लोगों डरे हुए हैं। इस मामले में पुलिस ने चारों अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि दशहत फैलाने के लिए अपराधियों ने गोलीबारी की थी। इस कड़ी में चर्चा हो रही है विश्व का सबसे छोटा साइको किलर की, जो बेगूसराय का ही था।

विश्व का सबसे छोटा साइको किलर बेगूसराय से था, जिसने पहली हत्या 7 साल की उम्र में की थी। उसने अपनी बहन समेत 3 बच्चियों का मर्डर खपरैल से कुचल कर किया था। वह तीसरे मर्डर के बाद पकड़ा गया। जब उसने हत्या की कहानी सुनाई तो पुलिस के रोंगटे खड़े हो गए। बेगूसराय से 19 किलोमीटर दूर एक गांव है मुसहरी। यहां 2006 में एक घर से 6 साल की बच्ची लापता हो जाती है। बच्ची के पिता ईंट-भट्ठे पर दिहाड़ी मजूदरी करते हैं। परिवार रोता-बिलखता है और बेटी को पूरे गांव में तलाशता है, लेकिन वह नहीं मिलती है। पुलिस में कोई गुमशुदगी दर्ज नहीं होती है। परिवार इस गम से उबर रहा होता है तभी एक और घटना होती है।

बच्ची के ताऊ की 8 साल की बेटी भी अचानक गायब हो जाती है। ताऊ का परिवार पास में ही रहता है। यह घटना पहली घटना से 6 महीने बाद होती है। इसकी तलाश भी की जाती है, लेकिन पहली बच्ची की तरह इसका भी पता नहीं चलता। पुलिस को भी सूचना नहीं दी जाती है। गांव वाले दहशत में हैं। तीसरी घटना के 3 महीने बाद फिर ऐसा ही कुछ होता है। गांव में 6 महीने की बच्ची लापता हो गयी। अब गांव वालों को लगने लगता है कि कुछ तो गड़बड़ है। 

इस दौरान इसकी सूचना पुलिस को दी जाती है। सूचना मिलने पर पुलिस मामले में एक अमरजीत सदा नाम के बच्चा का नाम लिया। पुलिस ने उससे बच्ची के बारे में सवाल किया तो वह हंसने लगा। पुलिस ने जब सवाल दोहराया तो वह फिर हंसा और कहा- वो जानता है कि बच्ची कहां है। वह लगातार हंसता रहा। पुलिस वाले के सवाल पर अमरजीत ने हसंकर कहा- बिस्किट दोगे तो बताऊंगा। फिर पुलिस ने बिस्किट का पैकेट उसे दिया। अमरजीत ने जो कहानी बताई, उसे सुनकर सब सन्न रहे गए।

अमरजीत ने बताया कि बच्ची को उसने खपरैल से मारकर सुला दिया है। पुलिस वालों ने उसे जगह दिखाने के लिए कहा। वह पुलिस को लेकर उस जगह पर गया, जहां बच्ची का शव पड़ा था। स्कूल के पीछे ही झाड़ी में शव था। फिर अमरजीत को थाने ले आ गया। वहां भी उसने बिस्किट मांगा और मिलने के बाद उसने अपने परिवार की दो बच्चियों की हत्या का खुलासा किया। उसने बताया कि दोनों को खपरैल से मारकर हत्या की है। तब क्लियर हुआ कि वह सीरियल किलर है। पुलिस ने उसे और बिस्किट दिए और सवाल किया कि उसने तीनों को क्यों मारा। इस पर अमरजीत ने बताया कि ऐसा करने में उसे मजा आता है। जब वो उन्हें मारता है और वो दर्द से चिल्लाती हैं, तो उसे वो देखने में काफी मजा आता था। इस पर पुलिसवालों ने उसे भागलपुर मानसिक अस्पताल में इलाज के लिए भेजा। यहां मनो-चिकित्सकों की जांच में पता चला कि अमरजीत एक दिमागी बीमारी 'कंडक्ट डिसऑर्डर' से पीड़ित है, जिसकी वजह से वो दूसरों को दर्द में देखकर खुश हो जाता था।


Find Us on Facebook

Trending News