आकाश विजयवर्गीय की बल्लेबाजी से पीएम मोदी नाराज, कहा-ऐसे लोगों को पार्टी से बाहर करना चाहिए

आकाश विजयवर्गीय की बल्लेबाजी से पीएम मोदी नाराज, कहा-ऐसे लोगों को पार्टी से बाहर करना चाहिए

NEWS4NATION DESK : बीजेपी के बंगाल प्रभारी व राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश की बल्लेबाजी का मामला तूल पकड़ने लगा है। विपक्ष जहां इस मामले को लेकर पहले से हमलावर था वहीं अब पीएम मोदी ने भी इस मामले को लेकर कड़ी टिप्पणी की है। 

आज मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक संसद के पुस्तकालय भवन में  हुई। इस बैठक में पीएम मोदी के साथ गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हुए।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बैठक के दौरान पीएम मोदी ने बिना नाम लिए भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और इंदौर-3 से विधायक आकाश विजयवर्गीय के निगम कर्मचारी को बल्ले से मारने वाली घटना पर नाराजगी जताई। 

उन्होंने कहा किराजनीति में अनुशासन होना चाहिए। दुर्व्यवहार करने वाले लोगों को पार्टी से बाहर कर देना चाहिए। ऐसा बर्ताव अस्वीकार्य है। उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा करने वाले लोग भले ही किसी के भी बेटे हों, लेकिन उन्हें मनमानी की इजाजत नहीं दी जा सकती।

बता दें कि इंदौर में नगर निगम का दल गंजी कंपाउंड क्षेत्र में एक जर्जर मकान को गिराने पहुंचा था। इसकी सूचना मिलने पर बीजेपी के महासचिव कैलास विजयवर्गीय के बेटे विधायक आकाश विजयवर्गीय मौके पर पहुंचे, जहां उनकी नगर निगम के कर्मचारियों से बहस हो गई। 

बहस के दौरान आकाश विजयवर्गीय क्रिकेट का बल्ला लेकर नगर निगम के अधिकारियों से भिड़ गए। विजयवर्गीय ने बल्ले से अफसरों की पिटाई भी की।  इस मामले में उन्हें गिरफ्तार  किया  गया था और चार दिन जेल में गुजारनी पड़ी थी। हालांकि रविवार को आकाश जमानत पर रिहा कर दिये गये। 

इस मामले पर कैलाश विजयवर्गीय ने अपने विधायक बेटे आकाश को कच्चा खिलाड़ी बताया था। कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। मुझे लगता है आकाश और नगर निगम के कमिश्नर दोनों पक्ष कच्चे खिलाड़ी हैं। यह एक बड़ा मुद्दा नहीं था, लेकिन इसे बहुत बड़ा बना दिया गया।

Find Us on Facebook

Trending News