चन्द्रशेखर पर लिखी किताब का PM मोदी ने किया विमोचन, कहा- उन्हें जो गौरव मिलना चाहिए था...नहीं मिला

चन्द्रशेखर पर लिखी किताब का PM मोदी ने किया विमोचन, कहा- उन्हें जो गौरव मिलना चाहिए था...नहीं मिला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर पर लिखी किताब, 'चंद्रशेखर- द बेस्ट आइकन ऑफ आईडियोलॉजिकल पॉलिटिक्स' का  बुधवार को दिल्ली में विमोचन किया। यह किताब राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश और रविदत्त बाजपेयी ने साथ मिलकर लिखी है।इस अवसर पर समारोह को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि चन्द्रशेखर जी को जो गौरव देना चाहिए था वो नहीं दिया गया। 

पीएम मोदी ने कहा कि आज छोटा-मोटा कोई नेता भी 10-12 किमी की पदयात्रा करेगा, तो 24 घंटे खबरों में बना रहेगा। चंद्रेशखर जी ने चुनाव के दौरान नहीं, बल्कि उन्होंने गांव, गरीब, किसान को ध्यान में रखकर पदयात्रा की। लेकिन देश ने उन्हें जो गौरव देना चाहिए था, वो नहीं दिया।

उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर जी के विचारों को लेकर किसी को भी एतराज हो सकता है। लेकिन जान बूझकर और सोची समझी रणनीति के तहत चंद्रशेखर जी की यात्रा को डोनेशन, करप्शन, पूंजीपतियों के पैसे, इस सभी के इर्द-गिर्द रखा। ये सब हमें अखरता है।

पीएम मोदी ने कहा कि आप सबके आशीर्वाद से मैंने ठान ली है कि दिल्ली में सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों की स्मृति में एक बहुत बड़ा आधुनिक संग्राहलय बनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि जिस समय कांग्रेस का सितारा चमकता हो, उस समय वो कौन सी प्रेरणा होगी कि एक व्यक्ति ने कांग्रेस से बगावत का रास्ता चुन लिया। शायद ये बलिया के संस्कार होंगे। शायद बलिया की मिट्टी में आज भी वो सुगंध होगी। उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर जी के जीवन से उन्हें आज भी प्रेरणा मिलती है।


Find Us on Facebook

Trending News