बिहार में BJP-JDU में 'काव्य वार' : भाजपा के जवाब में जदयू ने भी लिखी कविता- 'चौकीदार द्वारा कहे गए समाजवादी इंसान हूं, सत्ता के खरीदारों के मंसूबों पर धिक्‍कार हूं, हां मैं वही नीतीश कुमार हूं'

बिहार में BJP-JDU में 'काव्य वार' : भाजपा के जवाब में जदयू ने भी लिखी कविता- 'चौकीदार द्वारा कहे गए समाजवादी इंसान हूं, सत्ता के खरीदारों के मंसूबों पर धिक्‍कार हूं, हां मैं वही नीतीश कुमार हूं'

पटना. बिहार में जदयू और भाजपा के बीच काव्य वार चल रहा है। भाजपा प्रवक्ता अरविंद सिंह ने सीएम नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए एक कविता लिखी तो अब जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने भी भाजपा पर पलटवार करते हुए एक कविता लिखी है। भाजपा के विरोध में नीरज कुमार ने सीएम नीतीश के तारीफों का पुल बांधते हुए कविता लिखी।

नीरज कुमार की कविता

रुके न जो, झुके न जो, दबे न जो मैं वो सेवादार हूँ, 

 षडयंत्रकारी और गद्दारों पर प्रहार हूँ। 

जनता का वफादार हूँ, हाँ मैं वही नीतीश कुमार हूँ ।।


यूपीए हो या एनडीए, मैं सात निश्‍चय पर खड़ा हूँ, 

CBI और ED के पैरोकारों के लिए ललकार हूँ,

हाँ मैं वही नीतीश कुमार हूँ ।।


चौकीदार द्वारा कहे गए समाजवादी इंसान हूँ,

सत्ता के खरीदारों के मंसूबों पर धिक्‍कार हूँ, 

हाँ मैं वही नीतीश कुमार हूँ।।

न्याय के साथ विकास के नैया का पतवार हूँ,

आपदा में सबका मददगार हूँ, 

हाँ मैं वही नीतीश कुमार हूँ ।।


45 विधायकों पर भी 77 विधायकों वाले के लिए राजनीति में बज्र प्रहार हूँ। 

सत्ता से बाहर हाने पर आप बीमार हो, 

हाँ मैं वही नीतीश कुमार हूँ ।।

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए एक कविता लिखी थी। इसमें भाजपा प्रवक्ता ने सीएम की नीतियों पर चोटिले अंदाज में कटाक्ष किया था।

भाजपा प्रवक्ता की कविता

बेबस और लाचार हूं मैं ही सरकार हूं लेकिन नीतीश कुमार हूं। हत्यारे लुटेरे बलात्कारियों अपराधियों को दे रहा रोजगार हूं इसलिए कुर्सी कुमार हूं।।

यूपीए में रहूं या एनडीए में रहूं फिर भी मैं ही सरकार हूं इसलिए नीतीश कुमार हूं। गुंडों अपराधियों से बना सरकार हूं जहां मंत्री बना फरार हो इसलिए मुख्यमंत्री मै नीतीश कुमार हूं।।

न बचाता हूं न फंसाता हूं शराबबंदी के नाम पर दलित हत्या कराता हूं जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाता हूं। हत्यारों घोटालेबाजों अपराधियों का मनोबल अब बढाता हूं इसलिए अब मैं प्रधानमंत्री का उम्मीदवार कहलाता हूं।।

पलटू राम रंग बदलू हूं जनता का धोखेबाज हूं फिर भी सरकार हूं इसलिए नीतीश कुमार हूं। बिहार में दारू बालू का अवैध कारोबार हूं लोभी और ठग का महागठबंधन बनाता हूं इसलिए सुशासन बाबू कहलाता हूं।।

समाजवाद के नाम पर अवसरवादिता का करता राजनीति हूं इसलिए आज कुर्सी पर बैठकर बनाता बेबसी लाचारी का  गणित हूं।। उग्रवादी अपराधी परिवारवादी के साथ मिलकर चलाता सरकार हूं इसलिए मैं नीतीश कुमार हूं।।

अब बढ़ता बेरोजगारी, घुसखोरी, अफसरशाही, हत्या लूट और बलात्कार का मैं बनाता बिहार हूं। तेज रफ्तार चाचा भतीजा तेजस्वी नीतीश का सरकार हू इसलिए मुख्यमंत्री और कोई प्रधानमंत्री का उम्मीदवार हूं ।।

46 विधायकों पर मैं ही कुर्सी कुमार हूं, मैं ही कुर्सी कुमार हूं, मैं ही कुर्सी कुमार हूं। मैं ही सबसे बड़ा पलटीमार हूं मैं ही नीतीश कुमार हूं मैं ही नीतीश कुमार।।

Find Us on Facebook

Trending News