पटना में शातिर को पुलिस ने किया गिरफ्तार, फर्जी कंपनी में पार्टनर बनाकर ठगी करने का आरोप

पटना में शातिर को पुलिस ने किया गिरफ्तार, फर्जी कंपनी में पार्टनर बनाकर ठगी करने का आरोप

PATNA : फर्जी कंपनी में लोगों को हिस्सेदार बनाकर ठगी करनेवाला एक शातिर ठग को बाईपास थाना ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी कोर्ट के आदेश पर हुई है। ठग नवीन कुमार हाई फाई लोगों को अपनी ठगी का शिकार बनाता था। ये लोगों को रातोंरात अमीर बनने का सपना दिखाता था। लोगों को झांसा देने के लिए इसने एक फर्जी कंपनी हेम्ड्रिक्स एग्री टेक प्राइवेट लिमिटेड बना रखी थी। जिन्हें इसको ठगना होता था, उसे यह उस कंपनी में पहले साझीदार बनाता था। फिर इससे लाखों रुपए इन्वेस्ट करवाता था। बाद में उससे कहता था कि कंपनी घाटे में चल रही है इसलिए आप इस्तीफा दे दीजिए। आपका हिसाब कर दिया जाएगा। 

ऐसा ही ठग नवीन ने पटना सिटी निवासी राजेश कुमार रंजन के साथ की। उन्हें भी कंपनी में पहले साझीदार बनाया। फिर 50 लाख रुपए निवेश करवाए। उसके कुछ माह बाद कंपनी के घाटे में चलने की बात कहने लगा और राकेश से कंपनी के निदेशक पद से इस्तीफा दिलवा दिया। राकेश कुमार रंजन ने समझदारी इतनी ही दिखाई कि इन्होंने 1000 रुपए के स्टाम्प पेपर पर उससे 52 लाख रुपए का देनदार होने की बात लिखवा ली। 

कुछ दिन के बाद राजेश अपना पैसा मांगने लगे तो नवीन बहाने करने लगा। दबाव अधिक देने पर वह पैसा देने से ही इनकार कर दिया। कहने लगा पैसा नहीं दूंगा, जो करना है कर लो। उल्टे ठग नवीन राजेश को धमकी भी दिलवाने लगा। हालांकि राकेश डरा नहीं और केस कर दिया। मामला कोर्ट में गया और कोर्ट के आदेश के बाद उसे बाईपास थाना ने रविवार को सुबह गिरफ्तार कर लिया। 

ठग नवीन पुलिस और प्रशासन को चकमा देने के लिए पूरी व्यवस्था कर रखी थी। वह रहनेवाला मूलतः नालंदा जिला के पोखरपुर (पावापुरी) का है जबकि आधार कार्ड पर पता रांची का है। लेकिन ठगी का धंधा पटना सिटी में फैलाए हुए है। 

पटनासिटी से रजनीश की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News