पटना के बड़े बाइक चोर गैंग तक पहुंची पुलिस, एक साल में दो हजार से ज्यादा गाड़ियों की कर चुके हैं चोरी

पटना के बड़े बाइक चोर गैंग तक पहुंची पुलिस, एक साल में दो हजार से ज्यादा गाड़ियों की कर चुके हैं चोरी

PATNA : पटना या उसके आसपास के इलाके से अगर आपकी बाइक चोरी हुई हो तो संभव है कि यह बाइक एक खास गैंग ने इस वारदात को अंजाम दिया हो। ऐसा इसलिए क्योंकि यह गैंग हर दिन पांच से अधिक बाइक की चोरी करता था। इनमें से ज्यादातर महंगी बाइकें शामिल हैं। 

दरअसल, पाटलिपुत्र थाने की पुलिस ने एक ऐसे वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है। जो पलभर में ही महंगी बाइक उड़ा देता था। पुलिस के अनुसार यह गैंग पिछले एक साल में दो हजार से अधिक महंगी बाइक चुरा चुका है। 

दस हजार में करते थे सौदा

पुलिस के अनुसार गैंग के सदस्य डेढ़ से दो लाख की बाइक को चोरी करते थे। बाद में उसे अपने सरगना के पास महज 10 हजार रुपए में बेच देते थे। बाद में सरगना उसे 18-20 में सौदा करता था। सरगना ही उसे गाड़ियों के चोरी के लिए प्रलोभन देता था।


पकड़े गए चार बदमाश

पुलिस ने इस गैंग के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। जिसमें एक नाबालिक है। इस कार्रवाई में पुलिस ने चोरी की चार बाइक भी जब्त की है। पकड़े गए बदमाशों में पाटलीपुत्र के राजापुर का रहनेवाला प्रेम कुमार, छितनामा थाना मनेर का विशाल कुमार, राजापुर मैनपुर मस्जिद का रहनेवाला शिवा कुमार और एक नाबालिक शामिल है। 

एक साल में चुराई दो हजार बाइक
 पाटलिपुत्र पुलिस की मानें तो पिछले कुछ समय से इलाके में लगातार बाइक चोरी की वारदात हो रही थी। जिसके बाद मामले को गंभीरता से लिया गया। इसी दौरान प्रेम कुमार के बारे में जानकारी मिली कि वह बाइक चोरी कर बेचने का धंधा करता है। जिसके बाद उसके ठिकाने पर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार किया गया। उसकी निशानदेही पर तीन और बदमाशों को गिरफ्तार किया गया। साथ ही उनके पास से तीन चोरी की बाइक भी जब्त की गई। पुलिस ने बताया कि यह सभी पिछले एक साल से सक्रिय थे। इस दौरान उन्होंने लगभग दो हजार बाइक की चोरी की।

इन इलाकों में करते थे काम

पकड़े गए गैंग के सदस्य ज्यादातर पाटलिपुत्र, दीघा, बुद्धा कॉलोनी, एसकेपुरी, जक्कनपुर और हवाई अड्डा थाने में चोरी की वारदात को अंजाम देते थे। बाइक चोरी के लिये वह मास्टर की का प्रयोग करते थे और बाद में चोरी की बाइक को किसी पार्किंग में दो दिन रखने के बाद उसका नंबर प्लेट बदलकर बेचने के लिए सरगना के ठिकाने पर पहुंचा देते थे। पुलिस ने बताया इनका सरगना वैशाली जिले से जुड़ा है। 

Find Us on Facebook

Trending News