बाइक शोरूम के कैशियर हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, सहकर्मी ने ही कराई हत्या, चार बदमाश गिरफ्तार

बाइक शोरूम के कैशियर हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, सहकर्मी ने ही कराई हत्या, चार बदमाश गिरफ्तार

KATIHAR : कटिहार में हीरो शोरूम के कैशियर को गोली मारकर हत्या कर लूट के वारदात को अंजाम देने से जुड़े मामले का खुलासा हो गया है। हीरो शोरूम के कर्मी ही अपने भाई और अन्य अपराधियों के साथ मिलकर उसकी हत्या किया था। इस हत्याकांड का फुलप्रूफ प्लानिंग था। लेकिन इन लोगों के एक चूक ने उसे और हत्या में शामिल उसके साथियों को हवालात में पहुंचा दिया। पुलिस ने इस मामले में चार अपराधी को गिरफ्तार किया है। जिसका इस हत्याकांड से जुड़ाव है। जबकि अब भी पुलिस इस मामले में और कई अपराधियों को गिरफ्तारी करने का दावा कर रही हैं। हीरो शोरूम में काम करने वाले कर्मी अपने ही सहकर्मी के हत्या का क्यों और कैसे किया था। 

इसका खुलासा करते हुए एसपी जितेंद्र कुमार ने कहा की 16 मई को मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सिरसा चौक के पास आइशा हीरो मोटरसाइकिल शोरूम से चद दूरी पर कोटक महिंद्रा बैंक में रुपया जमा करने के दौरान  शोरूम के कैशयर रजत के अपराधियों ने गोली मारकर हत्या करते हुए छह लाख नगद लूट लिया था। तब से लेकर अब तक इस हत्याकांड के उद्भेदन को लेकर पुलिस काफी दबाव में थी। इस बीच पुलिस ने कई टीम बनाकर लगातार कई बिंदुओं पर जांच करते हुए मामले का उद्भेदन कर लिया है। घटना के बाद मृतक रजत के साथ मौजूद शोरूम कर्मी से अपराधियों की आकार आकृति हुलिया और सीसीटीवी के अलावे तकनीकी अनुसंधान के सहारे पुलिस उन सभी बिंदुओं को सुलझा लिया जो उसके लिए पहेली बना हुआ था। पुलिस अधीक्षक की माने तो एक ऐसा मोबाईल सीम कटिहार पुलिस के हाथ लगा जो इस हत्याकांड को अंजाम देने के लिए ही एक्टिवेट किया गया था। हत्या की घटना को अंजाम देने और उसके बाद पुलिस को चकमा देने के लिए बदमाशों ने कई बार आपस में बैठक भी किया था। 

लेकिन कटिहार पुलिस के सूत्र और लगातार मेहनत से आखिरकार पुलिस अपराधियों के गिरेबान तक पहुंच ही गयी।  इस हत्याकांड में जिन चार अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। उसमें गौतम कुमार साह, राहुल कुमार मलिक ,साहेब कुमार दास और सागर कुमार शामिल है। इनके पास से एक देशी, एक जिंदा कारतूस, घटना को अंजाम देते समय रेकी करने के दौरान इस्तेमाल किए गए मोबाइल और घटना के अंजाम देने के दौरान स्कूटी बाइक को भी पुलिस ने जप्त कर लिया है। बड़ी बात यह है की इसमें साहिब दास हीरो शोरूम के ही कर्मी है जो अपने भाई सागर के दो मित्र गौतम और राहुल के साथ मिलकर हत्या और लूट का यह प्लान बनाया था। इस दौरान साहिब पहले से ही 2 दिन की छुट्टी लेकर बाहर था। जबकि घटना के वक्त राहुल और गौतम मोटरसाइकिल शोरूम में मोटरसाइकिल ठीक कराने के बहाने में मौजूद थे। ताकि पुलिस को कंफ्यूज किया जा सके। पुलिस की माने तो स्पॉट पर घटना को गौतम और उस एक अन्य अपराधी ने अंजाम दिया है जो अब तक फरार है। कटिहार एसपी ने इस मामले में कई और लोगों की जल्द गिरफ्तारी का दावा किया है। निश्चित तौर पर कटिहार के लिए दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर लूट की यह बड़ी वारदात है। लेकिन पुलिस जिस तरीके से परत दर परत मामले को जोड़ते हुए  इसके तह तक पहुँची है। पुलिस "तफ्तीश" के इस तरीके की भी तारीफ होना चाहिए। 

कटिहार से श्याम की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News