पटना स्टेशन में हुए हंगामे पर पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई, 60 अज्ञात पर हुआ FIR, पांच गिरफ्तार

पटना स्टेशन में हुए हंगामे पर पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई, 60 अज्ञात पर हुआ FIR, पांच गिरफ्तार

PATNA : बुधवार की सुबह पटना जंक्शन पर हुए टेम्पो  हलको और दूध मंडी के बीच हुए विवाद में कोतवाली पुलिस ने करवाई करते हुए 5 लोगो को गिरफ्तार किया है , 11 नामजद लोग सहित 60 अज्ञात लोगों पर मारपीट और तोड़फोड़ करने  के लिखित शिकायत दर्ज करने पर पुलिस ने करवाई करते हुए धर पकड़ शुरू किया है बता दें कि बुद्धवार की सुबह मामूली बात को लेकर दूध मार्किट और फुटपाती दुकानदारो द्वारा टैम्पो चालको पर ईंट और लाठी डंडे से हमला किया गया जिसमें टैम्पो चालक सहित कई राहगीरों को गंभीर चोटें आई है वही बदमाशो ने टाटा पार्क स्थित स्टैंड में दर्जनों टैम्पो के साथ तोड़फोड़ किया है फ़िल्हाल पुलिस इस मामले में फरार हुए लोगो की तलाश में जुट गई है।

लंबे समय से चल रही है लड़ाई

पटना स्टेशन पर ऑटो चालकों और दूध विक्रेताओं के बीच लड़ाई पहली बार नहीं है। अक्सर दोनों के बीद गाड़ी पार्क करने को लेकर विवाद होता रहा है। स्थानीय लोगों और टेम्पू चालकों ने पुलिस को यह बताया कि दूध मार्केट में पनीर और दूध के व्यवसायियों द्वारा लगातार मार्केट के सामने खड़े टेम्पुओं को हटाने का दबाब डाला जाता है. दूध मार्केट को प्रसाशन ने हटा दिया था, लेकिन ये लोग अवैध रूप से नकली पनीर का व्यवसाय करते हैं। कल हुए घटना के मामले में मजिस्ट्रेट स्तर के अधिकारी जांच कर रहे हैं। 

गौरतलब है कि कल पटना जंक्शन के पास टाटा पार्क ऑटो स्टैंड में बुधवार को अचानक से कुछ लोगों ने हमला कर दिया। पहले एक ऑटो ड्राइवर को जमकर पिटा। उसे घायल कर दिया। फिर बीच-बचाव करने गए दूसरे ऑटो ड्राइवर्स को भी हमलावरों ने पीट दिया। इसके बाद लाठी-डंडे से वार कर स्टैंड में खड़े कई ऑटो के शीशे फोड़ दिए गए। उन पर पत्थर बरसाए गए। पथराव की वजह से स्टैंड में मौजूद कुछ पैसेंजर्स को भी चोट आई। बुधवार को अचानक हुए इस घटना की वजह से ऑटो स्टैंड से लेकर पूरे स्टेशन गोलंबर तक अफरा-तफरी मच गई। लोग इधर-उधर भागने लगे। 


आधे घंटे तक स्थिति कंट्रोल से बाहर, डरे हुए थे यात्री

करीब 100 से अधिक ऑटो में तोड़फोड़ की गई। जो पैसेंजर्स घायल हुए वो खुद ही कहीं जाकर अपना इलाज करा रहे हैं। इस घटना की वजह से स्टैंड और उसके आसपास मौजूद महिलाएं और बच्चे काफी डर गए थे। आधे घंटे से अधिक देरी तक वहां का माहौल काफी डराने वाला बना हुआ था। दूसरी तरफ, इस घटना की जानकारी मिलते ही पटना जिला प्रशासन की टीम पहुंची। पुलिस से डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर व कोतवाली थानेदार भी आए।

Find Us on Facebook

Trending News