₹50 करोड़ रुपए के गबन का आरोपी डाकघर एजेंट आखिरकार गिरफ्तार, दो राज्यों की पुलिस ने संयुक्त रूप से की कार्रवाई

₹50 करोड़ रुपए के गबन का आरोपी डाकघर एजेंट आखिरकार गिरफ्तार, दो राज्यों की पुलिस ने संयुक्त रूप से की कार्रवाई

CHHAPRA : छपरा डाकघर के सैकड़ों उपभोक्ताओं से आरडी (रेकरिंग डिपॉजिट) के जरिए लगभग 50 करोड़ रुपये की ठगी करने वाले एजेंट को गोरखपुर आरपीएफ और छपरा पुलिस ने संयुक्त रूप से पत्नी के साथ गिरफ्तार कर लिया है। जालसाज एजेंट को न्यू जलपाईगुड़ी ट्रेन से आरपीएफ ने यूपी के गोरखपुर से पकड़ा और छपरा की भगवान बाजार थाना पुलिस कौ सौंप दिया। 

500 लोगों का पैसा लेकर हो गया था फरार

बिहार पुलिस को आरोपी धीरज अग्रवाल की सात महीने से तलाश थी। धीरज भगवान बाजार थाना क्षेत्र के दौलतगंज का रहने वाला है। वह अपनी पत्नी के साथ पकड़ा गया है। धीरज अग्रवाल ने छपरा शहर के पोस्ट ऑफिस से जुड़े 500 से अधिक खाताधारकों से करीब 50 करोड़ से अधिक राशि धोखाधड़ी कर लेकर फरार हो गया था। 

इसके खिलाफ भगवान बाजार थाने में गुदरी सलापत गंज के रहने वाले डॉक्टर निजाम अहमद के पुत्र निसार अहमद और अश्वनी पांडे ने टाउन और भगवान बाजार थाने में भी मामला दर्ज कराया गया था गोरखपुर पोस्ट के इंस्पेक्टर इंचार्ज राजेश सिन्हा ने तत्काल सूचना भगवान बाजार थाना पुलिस को दी और मौके पर भगवान बाजार थाना पुलिस पहुंच गई।

ऐसे करता था गबन 

जालसाज ने डाक विभाग के खाता धारियों से फर्जीवाड़ा कर लोगों की दैनिक वसूली के जरिए रेकरिंग डिपॉजिट (आरडी) अकाउंट खोल दिया था। लोग विश्वास करते हुए अपनी पासबुक भी धीरज के पास ही छोड़ देते थे और वो उसका फायदा उठाते हुए पासबुक पर जाली एंट्री कर डाक विभाग की मुहर और कर्मी का हस्ताक्षर कर पैसा उठा लेता था। यह खेल लंबे समय से धीरज खेल रहा था, लेकिन बीते दिसंबर माह में  इसका खुलासा हुआ। उसके बाद से वह छपरा छोड़कर भाग गया था।


Find Us on Facebook

Trending News