अमृत महोत्सव पर शुरू हुई पोस्टकार्ड प्रतियोगिता : आजादी के 100 साल बाद कैसी होगी भारत की तस्वीर, छात्र लिख रहे हैं अपना नजरिया

अमृत महोत्सव पर शुरू हुई पोस्टकार्ड प्रतियोगिता : आजादी के 100 साल बाद कैसी होगी भारत की तस्वीर, छात्र लिख रहे हैं अपना नजरिया

BETIA : देश में आजादी के 75 साल पूरे होने पर अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इस मौके को खास बनाने के लिए  प•चम्पारण के लौरिया- प्रखंड मुख्यालय स्थित साहु जैन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पोस्टकार्ड पत्रलेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता की सबसे खास बात इसके विषय थे। जिन पर छात्रों को अपना नजरिया लिखकर देना है। 

इस प्रतियोगिता में जो दो विषय रखे गए हैं, उनमें पहला गुमनाम स्वतंत्रता सेनानी के सम्मान के लिए सरकार से क्या अपेक्षा है? वहीं दूसरा विषय आजादी के सौ साल बाद 2047 का भारत कैसा होगा? भारतीय डाक विभाग के सहयोग से आयोजित इस प्रतियोगिता में कक्षा चार से 11वीं तक के छात्र हिस्सा ले रहे हैं। आज इस प्रतियोगिता का अंतिम दिन है। 

इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य मजिस्टर ने बताया कि इस तरह का आयोजन पहली बार शिक्षण संस्थान में अध्यनरत बच्चों द्वारा कराया जा रहा है। इधर पोस्टकार्ड के महत्व व पत्रलेखन पहली बार विद्यालय के बच्चों द्वारा किया जा रहा है।   वहीं देश की आजादी को लेकर वह क्या सोचते हैं, यह भी जानने का मौका मिलेगा। 

स्वतंत्रता सेनानी भी हुए शामिल

इस प्रतियोगिता मे मुख्य अतिथि साहू जैन उच्च विद्यालय के सेवानिवृत प्राचार्य सह स्वतंत्रता सेनानी केदार मणी शुक्ला के पुत्र मदन मणि शुक्ला भी उपस्थित रहे। इस दौरान भाषण प्रतियोगीता में प्रखंड क्षेत्र के मठिया गांव निवासी स्वतंत्रता सेनानी बाबू शीतल राय, एकनाथ मिश्रा, गुलाब शेख, व केदारमणि शुक्ला के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए  बच्चों को जानकारी दी गई।इस मौके पर भारतीय डाक विभाग से ब्रजेश कुमार पाण्डेय, तफ्फजूल हक सहित विद्यालय के अन्य शिक्षक भी उपस्थित रहे |


Find Us on Facebook

Trending News