भारत में आज से शुरू हो रहा है प्रिकॉशन डोज, पहले चरण में हेल्थ वर्कर्स, 60 प्लस से अधिक उम्र वाले लोगों सहित इन लोगों को मिलेगी वरीयता

भारत में आज से शुरू हो रहा है प्रिकॉशन डोज, पहले चरण में हेल्थ वर्कर्स, 60 प्लस से अधिक उम्र वाले लोगों सहित इन लोगों को मिलेगी वरीयता

NEW DELHI : कोरोना के तीसरे फेज से बचाव के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से आज से तीसरा डोज लगाने का अभियान आरंभ किया जा रहा है। जिसमें शुरुआती चरण में 1 करोड़ से अधिक हेल्थ वर्कर (Health Workers) एवं फ्रंटलाइन वर्कर्स (Frontline Workers) तथा 60+ नागरिकों को वैक्सीन का तीसरा डोज दिया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से इन लोगों को तीसरे डोज के लिए रिमाइंडर SMS भेजे गये है।  COWIN पर अप्वाइंटमेंट (booster dose appointment) पहले से शुरू है।


बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पिछले दिनों कहा था कि 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को, जिनमें हार्ट डिजीज, डायबिटीज, किडनी की बीमारी के साथ-साथ अन्य गंभीर बीमारियां हैं, तो उन्हें सबसे पहले प्रिकॉशन डोज दिया जायेगा। हालांकि, स्वास्थ्य मंत्रालय ने सलाह दी है कि अपने डॉक्टर की सलाह पर ही लोग प्रिकॉशन डोज लें।

तीसरी खुराक के लिए नये सिरे से Co-Win App पर रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत नहीं है. आप टीकाकरण केंद्र पर जाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं. आप अगर लाइन नहीं लगाना चाहते, तो आप साइट से अप्वाइंटमेंट भी ले सकते हैं।

यह दस्तावेज होंगे जरुरी 

तीसरी खुराक लेने जा रहे हैं, तो अपने साथ वोटर आईडी (Voter ID Card), आधार कार्ड (Aadhaar Card), पासपोर्ट (Passport), ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License), स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मान्यताप्राप्त कोई भी दस्तावेज लेकर वैक्सीनेशन सेंटर (Vaccination Center) पर जायें. वैक्सीन लेते समय इनमें से कोई एक दस्तावेज दिखाना अनिवार्य है.

भारत में बूस्टर नहीं, प्रिकॉशन डोज दिया गया नाम

दुनिया भर के देशों में वैक्सीन की तीसरी खुराक को बूस्टर डोज कहा जा रहा है, लेकिन भारत ने इसे प्रिकॉशन डोज नाम दिया है। इससे पहले 15 से 18 साल की आयु के किशोरों को वैक्सीन (Vaccine to Teenagers) की खुराक देने के अभियान की शुरुआत हुई थी. टीनएजर्स ने बढ़-चढ़कर वैक्सीन की खुराक ली है. 3 जनवरी से अब तक यानी 9 जनवरी 2022 तक 2.2 करोड़ वैक्सीन की डोज बच्चों को लग चुकी है.

अब तक 150 करोड़ वैक्सीन लगे भारत में

 वहीं, देश में 15 साल से अधिक उम्र के लोगों को 151.57 करोड़ वैक्सीन की डोज लग चुकी है. पिछले 24 घंटे के दौरान 89 लाख कोरोना वैक्सीन की डोज लोगों को लगायी गयी. अब तीसरी डोज की भी शुरुआत होने जा रही है, जिसे बूस्टर डोज नहीं, प्रिकॉशन (एहतियाती) डोज नाम दिया गया है.


Find Us on Facebook

Trending News