प्रिंसिपल साहब ने 16 स्मार्टफोन को छात्रों के सामने ही कर दिया चकनाचूर, लेक्चर के दौरान भी फोन में बिजी थे छात्र

प्रिंसिपल साहब ने 16 स्मार्टफोन को छात्रों के सामने ही कर दिया चकनाचूर, लेक्चर के दौरान भी फोन में बिजी थे छात्र

NEW4NATION DESK : एक तरफ प्रिंसिपल साहब लेक्चर दिए जा रहे थे. दूसरी तरफ स्टूडेंट अपने स्मार्टफोन में बिजी थे. बार-बार मना करने पर भी छात्र मानने को तैयार नहीं थे. प्रिंसिपल साहब ने कई बार छात्रों को मना किया कि लेक्चर के दौरान ऐसा काम ना करें.  इसके बावजूद छात्र कक्षा में स्मार्टफोन यूज करने से बाज नहीं आ रहे थे. बाध्य होकर प्रिंसिपल साहब ने छात्रों का स्मार्टफोन अपने पास मंगवाया. फिर उनके ही सामने हथौड़ी से उसे तोड़ दिया.

जी हां, बता दें की यह घटना बेंगलुरु के सिरसी स्थित एमईएस चैतन्य पीयू कॉलेज की है. प्रिंसिपल के गुस्से में होने और उसके बाद स्टूडेंट के स्मार्टफोन तोड़ने की घटना सोशल मीडिया में वायरल हो चुकी है. हालांकि प्रिंसिपल के इस एक्शन का कई शिक्षण संस्थानों और और कॉलेजों ने समर्थन भी किया है. 

गौरतलब है की प्रिंसिपल पहले भी कई दफा अपने कॉलेज के छात्रों को ताकीद कर चुके थे कि स्मार्टफोन का इस्तेमाल कॉलेज में ना करें. खासकर जब कक्षा में जब लेक्चर चल रहा हो तो उस दौरान एक दम नहीं. लेकिन प्रिंसिपल के आदेश और समझाने का असर छात्रों पर बिल्कुल नहीं हो रहा था. उसका परिणाम उल्टा हुआ कि जब प्रिंसिपल खुद कक्षा में लेक्चर दे रहे थे. उस दौरान भी छात्र धड़ल्ले से स्मार्ट फोन का उपयोग करने में व्यस्त थे. इसके बाद अंत में प्रिंसिपल को गुस्सा आ गया. छात्रों के रवैए से नाराज प्राचार्य ने छात्रों का मोबाइल फोन लेकर उनके ही सामने हथौड़े से एक एक कर 16 स्मार्ट फोन चकनाचूर कर दिये. बता दें कि सिर्फ कर्नाटक ही नहीं बल्कि देश के तमाम राज्यों और शहरों में स्कूल के छात्रों के द्वारा भी स्मार्टफोन का धड़ल्ले से उपयोग किया जाता है.

हालांकि कई स्कूलों ने स्मार्ट फोन के उपयोग को लेकर बहुत ही सख्त आदेश दिए हैं. अभिभावकों को स्पष्ट कहा गया है कि अपने बच्चों को स्मार्टफोन देकर स्कूल या कॉलेज न भेजें. इसके बावजूद कुछ बच्चे स्मार्टफोन लेकर न सिर्फ स्कूल पहुंचते हैं बल्कि उसका दुरुपयोग भी करते हैं.

बेंगलुरु में घटी इस घटना ने छात्रों के साथ-साथ शिक्षकों को भी एक सबक देने का काम किया है. आगे देखना होगा कि सोशल मीडिया पर वायरल यह घटना बाकी स्कूलों और कॉलेजों पर क्या असर दिखाती है.

Find Us on Facebook

Trending News