नवादा और गया सेन्ट्रल कारा में भी कैदियों ने किया छठ, जेल प्रशासन ने किया पूरा इंतजाम

नवादा और गया सेन्ट्रल कारा में भी कैदियों ने किया छठ, जेल प्रशासन ने किया पूरा इंतजाम

GAYA : लोक आस्था का महापर्व छठ की चहुंओर धूम है, तो इससे गया का सेंट्रल जेल भी अछूता नहीं है. गया जेल में भी बंदियों के बीच छठ पर्व को लेकर आस्था और उल्लास चरम पर है. इस बार दर्जनों बंदियों ने छठ का व्रत रखा है. 9 महिला बंदी और कई पुरुष छठ का व्रत कर रहे हैं. छठ पर्व के दूसरे दिन गया सेंट्रल जेल में छठव्रती बंदियों ने खरना का प्रसाद बनाया. जेल में सभी बंदियों के बीच खरना का प्रसाद बांटा गया.

बंदियों के लिए जेल प्रशासन ने की व्यवस्था

जिस तरह गया सेंट्रल जेल में छठ का उल्लास बंंदियों के बीच भी बना हुआ है. उसके मद्देनजर जेल में छठ व्रत को लेकर जेल परिसर को लाइटों से सजाया गया है. वहीं जेल परिसर में ही कुंड बनाए गए हैं, जिसमें छठव्रती रविवार को अस्ताचलगामी भगवान सूर्य और सोमवार को उदयीमान भगवान सूर्य को अर्घ्य देंगे.

सजावार कई बंदियों ने भी किया है छठ का व्रत

मिली जानकारी के मुताबिक गया सेंट्रल जेल में कई सजावार बंदियों ने भी छठ का व्रत किया है. आधा दर्जन के करीब सजावार बंदी छठ का व्रत कर रहे हैं. इस संबंध में गया सेंट्रल जेल के अधीक्षक विजय कुमार अरोरा ने बताया कि गया कारा में बंदियों के बीच छठ पर्व को लेकर उत्साह है. दर्जन भर बंदियों ने छठ का व्रत किया है, जिसमें 9 महिलाएं और कई पुरुष हैं. छठ व्रत को लेकर जेल प्रशासन की ओर से व्यवस्था की गई है. व्रतियों को कई सामान भी मुहैया कराए गए हैं. जेल में धूमधाम से लोक आस्था का महापर्व छठ मनाया जा रहा है.

नवादा सेन्ट्रल कारा में भी छठ

नवादा मंडल कारा में भी महिला बंदी लोक आस्था के महापर्व छठ पर्व कर रही है. छठ गीतों से पूरा मंडल कारा गुंजायमान हो रहा है. जेल प्रशासन की ओर से छठ व्रतियों को पूजा से संबंधित सभी सामान उपलब्ध कराए गए हैं. छठ को लेकर कैदियों में भी काफी उत्साह देखा जा रहा है. जेल अधीक्षक अजीत कुमार ने बताया कि मंडल कारा में 7 महिला बंदी छठ कर रही है. जिसे घर के तरह ही जेल में भी सभी सुविधा मुहैया कराई गई है. उन्होंने बताया कि आज छठ व्रतियों द्वारा खरना का प्रसाद बनाया जा रहा है, जिसे सभी कैदियों के बीच वितरण किया जाएगा. जेल अधीक्षक ने बताया कि पहले से ही महिलाओं ने छठ व्रत करने की जानकारी दी थी, जिसके बाद उन्हें पूजा से संबंधित सभी सामान उपलब्ध कराए गए हैं. 

गया से मनोज और नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News