बाढ़ ने सपनों को तोड़ा : चमचमाती कार से शादी करने के लिए जाना चाहता था दूल्हा, सड़क पर पानी के चलते ट्रैक्टर से ही निकालनी पड़ी बाराती

बाढ़ ने सपनों को तोड़ा : चमचमाती कार से शादी करने के लिए जाना चाहता था दूल्हा, सड़क पर पानी के चलते ट्रैक्टर से ही निकालनी पड़ी बाराती

बेतिया. इन दिनों प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ का जारी है. करीब प्रदेश के 30 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित है. इस बीच बाढ़ के दौरान कई रोचक वीडियो और फोटो भी सामने आते रहते हैं. कभी नाव पर शादी का वीडियो, तो कभी कोई और वीडियो आते रहते है. इस बीच बेतिया में शिवराजपुर पंचायत के छरकी गांव एक युवक का ट्रैक्टर पर शादी की चर्चा जोरों सो हो रही है. युवक चहता था कि वह चमचमाती कार से शादी करने के लिए जाये, लेकिन बाढ़ ने उसके सपनों पर पानी फेर दिया और उसे बारातियों के साथ ट्रैक्टर पर जाना पड़ा.

बता दें कि इरशाद आलम की कल शादी थी. घर पर सभी दोस्त-रिश्तेदार पहुंच गए थे, लेकिन बाढ़ का पानी कम होने का नाम नहीं ले रहा था. तो ऐसे में दूल्हे की बारात कैसे निकलती. आखिर पिरजनों और गांव वालों ने ट्रैक्टर का ही विकल्प चुना और बारात निकालने का सोचा. फिर एक ट्रैक्टर मंगावाया गया. दूल्हा इरशाद उस पर आगे बैठा और पीछे बैंड पार्टी के साथ सारे बाराती बैठी. इसके बाद बाढ़ के पानी को लांघते हुए ट्रैक्टर दुल्हन के घर पहुंचा. इस बारात को देखने के लिए सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट गई.

इरशाद आलम की चाहत थी कि चमचमाती फूलों से सजी कार से वो ससुराल जाए और दुल्हन को घर लाए, लेकिन बाढ़ के पानी ने उसे ऐसा मजबूर किया कि ट्रैक्टर के सहारे बारात निकालनी पड़ी. दूल्हा ट्रैक्टर के आगे ड्राइवर के बगल में बैठा और सारे बाराती ट्रॉली में बैठक कर शादी के लिए निकाल. बता दें कि उत्तरी बिहार में बाढ़ ने लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त कर रख दिया है. लोगों जरूरत चीजों के लिए मोहताज है. 

Find Us on Facebook

Trending News