मुसलमान से हिंदू बने वसीम रिजवी की गिरफ्तारी के विरोध में शुरु हुआ धरना, धर्म संसद में दिया था हेट स्पीच

मुसलमान से हिंदू बने वसीम रिजवी की गिरफ्तारी के विरोध में शुरु हुआ धरना, धर्म संसद में दिया था हेट स्पीच

दिल्ली. हेट स्पीच मामले में गिरफ्तार किए गए मुसलमान से हिंदू बने वसीम रिजवी की गिरफ्तारी के विरोध में हरिद्वार में धर्म संसद का आयोजन करने वाले महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती गंगा किनारे धरने पर बैठ गये हैं. तथाकथित हेट स्पीच मामले में गिरफ्तार हुए वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र त्यागी की रिहाई के लिए महंत धरना दे रहे हैं. 

गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर के महंत ने गुरुवार से हर की पौड़ी के सर्वानंद घाट पर अपने समर्थकों के साथ टेंट लगाकर धरना दे रहे हैं. शनिवार को उन्होंने कहा कि जब तक त्यागी को रिहा नहीं किया जाता, मैं अन्न जल नहीं ग्रहण करूंगा. 

जान लें कि नरसिंहानंद द्वारा आयोजित कार्यक्रम में गांधीजी के बारे में अपशब्द कहे गये. नाथूराम गोडसे की तारीफों के पुल बांधे गये. आरोप है कि कार्यक्रम में अल्पसंख्यकों के खिलाफ भड़काऊ और हिंसक भाषण दिये गये थे.  इस मामले में गुरुवार शाम पुलिस ने वसीम रिजवी को गिरफ्तार कर लिया.वह उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष रह चुके हैं. छह दिसंबर को उन्होंने हिंदू धर्म स्वीकार कर लिया था. वह अब जितेंद्र नारायण त्यागी बन गये हैं.  17 से 19 दिसंबर तक हरिद्वार में आयोजित धर्म संसद में हेट स्पीच देने के मामले में रिजवी भी आऱोपी हैं. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में केंद्र और उत्तराखंड सरकार को नोटिस जारी किया है.

हरिद्वार में धरना दे रहे नरसिंहानंद ने कहा कि जब त्यागी को गिरफ्तार किया गया तो वह मेरे ही साथ थे. मैंने पुलिस से कहा कि मुझे भी गिरफ्तार कर लो, मैं भी सह आरोपी हूं लेकिन उन्होंने मेरी बात नहीं सुनी. अब मैं सत्याग्रह कर रहा हूं औऱ जब तक त्यागी को रिहा नहीं किया जाता, मैं अन्न जल नहीं ग्रहण करूंगा. 

जीतेंद्र त्यागी की गिरफ्तारी के समय एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें नरसिंहानंद कह रहे थे, तुम सब मारे जाओगे, तुम्हारे बच्चे भी मारे जायेंगे.  त्यागी की गिरफ्तारी को लेकर हरिद्वार के सिटी एसपी स्वतंत्र कुमार ने कहा, 12 नवंबर को प्रेस क्लब में एक किताब के विमोचन के दौरान उन्होंने विवादित टिप्पणी की थी.

उनके खिलाफ 153A के तहत केस दर्ज किया गया था. इस क्रम में  धर्म संसद में विवादित भाषण देने के मामले में फिर से 153A और 295 के तहत मामला दर्ज किया गया है. हरिद्वार के सीनियर सुपरिंटेंडेंट योगेंद्र सिंह रावत ने कहा कि जितेंद्र त्यागी को कोर्ट से 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है


Find Us on Facebook

Trending News