पीयू ब्रेकिंग : पत्थरबाजी में शामिल छात्रों की डिग्री होगी रद्द, 28 आरोपी छात्र भेजे जा चुके हैं जेल

पीयू ब्रेकिंग : पत्थरबाजी में शामिल छात्रों की डिग्री होगी रद्द, 28 आरोपी छात्र भेजे जा चुके हैं जेल

PATNA : पटना विश्वविद्यालय के छात्रावास में रह रहे छात्रों के द्वारा की गई पत्थरबाजी में एक स्थानीय व्यक्ति की मौत हो जाने के बाद पुलिस और विश्वविद्यालय प्रशासन दोनों काफी सख्त हो गया है। गौरतलब है कि 16 सितंबर की रात पटना विश्वविद्यालय के छात्र और स्थानीय लोगों के बीच झड़प हो गई थी। जिसमें दोनों तरफ से पत्थरबाजी की घटना घटी थी। उस पत्थरबाजी में एक अधेड़ की मौत हो गई थी।

घटना के बाद 28 आरोपी छात्रों को जेल भेज दिया गया था। इतना ही नहीं विश्वविद्यालय प्रशासन ने यह निर्णय लिया है कि स्थानीय लोगों के साथ जिन-जिन छात्रों का नाम हिंसक झड़प में सामने आया है उनकी पहचान कर उनकी डिग्री रद्द की जाएगी। 

बता दें कि अशोक राजपथ में के लाल बाग इलाके के लोगों से विश्वविद्यालय के छात्रों की हुई झड़प में 43 छात्रों को नामजद अभियुक्त बनाया गया था। जिसमें से 28 आरोपी छात्रों को जेल भेज दिया गया है। जबकि 15 नामजद अभियुक्तों के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है। इतना ही नहीं पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है और मारपीट युवती से छेड़खानी तथा दुकानदारों से पिटाई करने वाले उपद्रवी छात्रों की पहचान करने में जुटी है। सत्यापन में पाए गए छात्रों के खिलाफ पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

बताया जा रहा है कई ऐसे थे जो पढ़ाई खत्म होने के बाद भी लगातार छात्रावास में बने हुए थे जिनकी पढ़ाई 4 से 5 साल पहले समाप्त हो गई है। वह आज भी हॉस्टल में रूम कब्जा कर आज भी बने हुए हैं। ऐसे तकरीबन दर्जन छात्रों की पुलिस ने पहचान की है जिनमें से कुछ को जेल भेजा जा चुका है।

वहीं दूसरी तरफ छात्र नेताओं ने भी पटना विश्वविद्यालय के छात्रों की सुरक्षा के लिए प्रशासन से सख्त कदम उठाने की मांग की है। इतना ही नहीं छात्र संगठनों ने इस पूरी घटना की निष्पक्ष जांच कर निर्दोष छात्रों को छोड़ने की भी मांग की है।

Find Us on Facebook

Trending News