पटना हाईकोर्ट में जातीय जनगणना को लेकर दायर हुई जनहित याचिका, सरकार के अधिसूचना को दी गयी चुनौती

पटना हाईकोर्ट में जातीय जनगणना को लेकर दायर हुई जनहित याचिका, सरकार के अधिसूचना को दी गयी चुनौती

PATNA : पटना हाईकोर्ट में राज्य सरकार द्वारा बिहार में जाति आधारित सर्वे कराने को लेकर लिए गए निर्णय को चुनौती देते हुए एक जनहित याचिका दायर की गई है। ये याचिका शशि आनंद द्वारा अधिवक्ता जगन्नाथ सिंह के जरिये दायर की गई है। 

याचिका में राज्य के राज्यपाल के आदेश से उक्त आशय को लेकर 06 जून, 2022 को जारी मेमो नंबर- 9077 और राज्य सरकार के उप सचिव के हस्ताक्षर से राज्य के मंत्रिपरिषद में 2 जून, 2022 को लिए गए निर्णय को की गई अधिसूचना को चुनौती दी गई है। 

याचिकाकर्ता का कहना है कि बिहार सरकार द्वारा कंटीजेंसी फण्ड से अपने स्रोत से पांच सौ करोड़ रुपए खर्च करके जाति आधारित सर्वे करवाना भारत के संविधान के अनुच्छेद 267 (2) के प्रावधानों का उल्लंघन है। याचिकाकर्ता का यह भी कहना है कि कंटीजेंसी फण्ड का उपयोग अप्रत्याशित स्थिति में किया जाना चाहिए।

Find Us on Facebook

Trending News