पूर्णिया के विद्या विहार आवासीय विद्यालय में धूमधाम से मनाया गया वार्षिकोत्सव, रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुआ

पूर्णिया के विद्या विहार आवासीय विद्यालय में धूमधाम से मनाया गया वार्षिकोत्सव, रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुआ

पटना. पूर्णिया स्थित विद्या विहार आवासीय विद्यालय के नवनिर्मित रविवंश नारायण मिश्र सभागार में विद्यालय के शिक्षकों के नेतृत्व में वरीय संकाय के छात्रों ने धूमधाम से वार्षिकोत्सव मनाया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में विद्यालय के निदेशक इंजीनियर रंजीत कुमार पॉल ने शिरकत की।

इस कार्यक्रम में शामिल अन्य गणमान्य व्यक्तियों में विद्यालय के ट्रस्टी राजेश चंद्र मिश्र, प्रधानाचार्य दिगेंद्र नाथ चौधरी, प्रशासक अरविंद कुमार सक्सेना (वरीय संकाय), उप-प्रधानाचार्य निखिल रंजन (वरीय संकाय) रीता मिश्रा (बालिका संकाय), गोपाल झा (कनीय संकाय), प्रशासिका प्रीति पाण्डेय, (बालिका संकाय), प्रशासक चंद्रकांत झा (कनीय संकाय), पीआरओ राहुल शान्डिल्य, स्वस्तिका ओझा, एवं संपूर्ण विद्यालय परिवार तथा अभिभावकों सहित अनेक उपस्थित लोगों ने भाग लिया।

मुख्य अतिथि इंजीनियर पॉल के कार्यक्रम स्थल पर पहुंचते ही विद्यालय प्रबंधन सहित सभी सदस्यों ने बड़े ही गर्मजोशी से उनका स्वागत किया। मुख्य अतिथि के आसन ग्रहण करते ही विद्यालय की बालिका संकाय की उप-प्रधानाचार्या रीता मिश्रा ने विद्यालय के निदेशक महोदय को दीप प्रज्वलन के लिए विद्यालय के प्रधानाचार्य, उप प्रधानाचार्य, प्रशासक सहित मंच पर आमंत्रित किया। विद्यालय के संगीत विभाग की शिक्षिका सुप्रिया मिश्रा एवं शिक्षक मलय सोम एवं टीम के द्वारा प्रस्तुत गीत के बोल “शुभं करोतु कल्याणं ” के साथ दीप प्रज्वलन किया गया।

तत्पश्चात् विद्यालय के प्रशासक सीके झा ने विद्यालय के निदेशक, प्रधानाचार्य, उप प्रधानाचार्य तथा समस्त अभिभावकों एवं शिक्षकों का स्वागत किया एवं विधिवत कार्यक्रम के प्रारंभ की घोषणा की। कार्यक्रम के प्रारंभ में “स्वागतम् स्वागतम्” के मधुर बोल के साथ विद्यार्थियों द्वारा सुमधुर स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। तत्पश्चात् विद्यालय की अंग्रेजी विभाग की शिक्षिका रीता मिश्रा ने विद्यालय के प्रशासक अरविंद कुमार सक्सेना को विद्यालय का वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए आमंत्रित किया।

वार्षिक रिपोर्ट की प्रस्तुति करते हुए प्रशासक अरविंद सक्सेना ने बताया कि किस प्रकार हम छात्रों के चतुर्दिक विकास के लिए विभिन्न प्रकार के शैक्षणिक, मानसिक, शारीरिक और कलात्मक गतिविधियों का आयोजन करके उन्हें समाज और राष्ट्र के लिए तैयार करते हैं। छात्रों की विविध गतिविधियों को आयोजित करने के लिए इस तरह के ऑडिटोरियम का निर्माण भी विद्यालय के द्वारा किया गया है। इसके साथ साथ हाउस डे, विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम, छह दिवसीय एनुअल एथलीट मीट 2022-2023 समय-समय पर विभिन्न परीक्षाएं और उपयोगी गतिविधियां,  विद्यालय द्वारा आयोजित किया गया है। 2021-2022 की 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा में छात्रों का प्रदर्शन बहुत ही शानदार रहा।

कार्यक्रम की अगली प्रस्तुति “ॐ नमः शिवाय” पर आधारित नृत्य प्रस्तुत करके छात्रों ने दर्शकों को भावविभोर कर दिया। पुनः संस्कृत में “देवी स्तोत्र” गाकर विद्यार्थियों ने अपनी जन्मभूमि भारत के प्रति जहां एक ओर अपनी भक्ति और लगाव का परिचय दिया। वहीं संस्कृत भाषा में भी अपनी निपुणता का झलक भी प्रस्तुत किया। स्त्रियों पर हो रहे अत्याचारों का प्रदर्शन अगले कार्यक्रम में किया गया, जिसे दर्शकों ने बहुत सराहा। पुनः “रिफंड” पर आधारित नाटक की प्रस्तुति विद्यार्थियों द्वारा की गई, जिसने दर्शकों की खूब वाहवाही बटोरी। ऐसे ही कई एकल और ग्रुप-नृत्य की प्रस्तुति एवं कुमार विश्वास की कविता “है नमन उनको”... की भावपूर्ण प्रस्तुति ने दर्शकों का दिल जीत लिया।

इस कार्यक्रम पर अपने विचार व्यक्त करते हुए मुख्य अतिथि और विद्यालय के निदेशक इं. रंजीत कुमार पॉल ने कहा कि बच्चों के चतुर्दिक विकास के लिए यह आवश्यक है कि बच्चे इस तरह के कार्यक्रमों में हिस्सा लें और सीखें मंच पर कैसे बोलना है, कैसे खड़ा होना है , कैसे जीवन में आगे बढ़ना है। सिर्फ परीक्षा पास करने से पूर्ण प्रगति संभव नहीं है। आपको जीवन में काम आने वाली चीजें, अनुशासन, स्वास्थ्य का ध्यान कैसे रखें, कैसे दूसरों के साथ बर्ताव करें आदि सीखनी चाहिए।

कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के उप- प्रधानाचार्य (व० सं०) निखिल रंजन ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों के प्रति धन्यवाद ज्ञापन किया। अपने वक्तव्य में रंजन ने कहा कि सर्वप्रथम मैं आज के मुख्य अतिथि, विद्यालय के निदेशक इंजीनियर रंजीत कुमार पाल के प्रति उद्गार व्यक्त करना चाहता हूं। दूर-दराज से आए हुए हमारे हृदय के नजदीक रहने वाले तमाम अभिभावकों का मैं हृदय से अभिनंदन करता हूं। विद्यालय में शिक्षक, अभिभावक और छात्र-छात्राओं का समन्वय होगा तो बच्चे और बच्चियां देश के मानचित्र पर अवश्य कुछ कर दिखाएंगे। मैं तमाम प्रोग्राम में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं, पर्दे के पीछे, परदे के आगे से सहयोग करने वाले, अपने कर्मचारियों, अपने शिक्षकों एवं जो भी दूर से हमारे अतिथि, मेंटर्स आए हुए हैं। उनके प्रति भी मैं अपना साधुवाद व्यक्त करना चाहता हूं अंत में तमाम छात्रों का जो इस समय में उपस्थित होकर के इस कार्यक्रम को बहुत ही ढंग से मनाने में आपने अपना योगदान दिया है। उनके के प्रति भी मैं आभार व्यक्त करना चाहता हूं।

इस कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के 11वीं कक्षा वाणिज्य संकाय की छात्रा नम्रता प्रियदर्शिनी, खुशी कुमारी तथा कला संकाय की छात्रा शुभांगी कोमल सहित नवम वर्ग के कुछ छात्रों ने किया। कार्यक्रम के आखिर में सबों ने राष्ट्रगान में भाग लिया और इसके साथ ही रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का समापन हुआ।

Find Us on Facebook

Trending News