"पुष्पम प्रिया VS कोमल सिंह" पॉलिटिकल कनेक्शन के साथ-साथ कोई किसी से कम नहीं... जानिए किनका किनसे है टक्कर..

"पुष्पम प्रिया VS कोमल सिंह" पॉलिटिकल कनेक्शन के साथ-साथ कोई किसी से कम नहीं... जानिए किनका किनसे है टक्कर..

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में यू तो सभी प्रत्याशी अपने आप को किसी से कम नहीं समझते हैं। सभी एक दूसरे को नीचे दिखाते हुए निर्वाचित होने के लिए जनता के बीच तरह-तरह के बातें करते हुए अपने आप को गुनी और ज्ञानी  साबित करने में लगे रहते हैं। लेकिन आज हम बात करेंगे बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार पुष्पम प्रिया चौधरी और मुजफ्फरपुर के गायघाट विधानसभा क्षेत्र से कोमल सिंह के बारे में दोनों अपने आप में काफी चर्चित है। दोनों का संबंध पॉलिटिकल घराने से है और पढ़ाई-लिखाई के मामले में भी कोई किसी से कम नहीं है। एक तरफ जहां पुष्पम प्रिया चौधरी पूर्व विधान पार्षद विनोद कुमार चौधरी की बेटी है और द प्लूरल्स पार्टी  से चुनावी मैदान में हैं और अपने आप को मुख्यमंत्री पद की दावेदार बता रही है।तो  दूसरी तरफ कोमल सिंह सांसद बिना देवी की बेटी है और लोजपा के टिकट से मुजफ्फरपुर जिले के गायघाट विधानसभा क्षेत्र से चुनावी मैदान में है।एक तरफ जहां पुष्पम प्रिया का टक्कर भाजपा के विधायक नितिन नवीन से है तो दूसरी तरफ कोमल सिंह के सामने महेश्वर यादव चुनावी मैदान में है।

 ये भी पढ़े...सासाराम की रैली में पीएम सीएम सहित होगा सिर्फ़ 6 नेताओं के बैठने की व्यवस्था, बनाए गए दो मंच....

आपको बताते चले की कोमल सिंह सांसद बिना देवी की बेटी है।जो गायघाट विधानसभा क्षेत्र से चुनावी मैदान में है। कोमल सिंह काफी पढ़ी-लिखी उम्मीदवार है जिन्होंने 27 साल में विधायक का चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। उनके पास एमबीए की डिग्री के साथ-साथ लोजपा के सभी उम्मीदवारों से अत्यधिक धनी भी है।जिनकी वार्षिक आय 7.94 करोड़ है।वही बैंक में 50 लाख, नकद 1.79 लाख रुपये भीे है। इनके ऊपर 30 लाख का लोन है।शेयर मार्केट में भी अच्छा पैसा निवेश है।ये प्राइवेट कंपनी में कार्यरत है, आय का स्त्रोत वेतन, बैंक से ब्याज व जमीन का किराया है। 


कोमल सिंह के पॉलिटिकल कनेक्शन का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि उनके पिता दिनेश सिंह जदयू से एमएलसी है। तो मां वर्तमान में लोजपा से सांसद हैं। जिन्होंने राजद नेता स्वर्गीय रघुवंश प्रसाद सिंह को लोकसभा चुनाव में मात देते हुए वैशाली लोकसभा क्षेत्र पर अपना कब्जा किया था।

 ये भी पढ़े...काराकाट विधानसभा सीट का चुनावी समीकरण, जानिए क्या रहा है काराकाट सीट का इतिहास

अब हम बात करेंगे पुष्पम प्रिया चौधरी की तो वह दरभंगा जिले की रहने वाली है और  उनका भी कनेक्शन पॉलिटिकल है उनके पिता विनोद कुमार चौधरी पूर्व विधान पार्षद है ।वह लंदन स्कूल ऑफ इकॉनमिक्स से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स की डिग्री लेकर लौटी हैं और सीधे बिहार विधान सभा चुनाव में ताल ठोक रही हैं। उनके पास पांच लाख का नीलम और तीन लाख का पुखराज है। इसके अलावा पुष्पम प्रिया के पास न तो घर है, न मकान और न ही वाहन है। उनके आय का सोत्र कंसलटेंसी है। उनकी उपजीविका राजनीति है। पुष्पम प्रिया के पास कुल चल संपत्ति 15 लाख 92 हजार 487 रुपए की है तो वहीं अचल संपत्ति के नाम पर शून्य है।  बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र में उनका टक्कर नितिन नवीन से है अब देखना यह होगा कि नितिन नवीन को वह कितना टक्कर दे सकती है।

Find Us on Facebook

Trending News