मंत्री इसराइल मंसूरी के विष्णुपद मंदिर में प्रवेश पर पंडा समाज व हिंदू संगठनों में रोष, जदयू नेता के पोस्टर पर पोती कालिख

मंत्री इसराइल मंसूरी के विष्णुपद मंदिर में प्रवेश पर पंडा समाज व हिंदू संगठनों में रोष, जदयू नेता के पोस्टर पर पोती कालिख

गया. सनातन धर्मावलंबियों की आस्था का केंद्र विष्णुपद मंदिर में सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सह गया जिला प्रभारी मोहम्मद इसराइल मंसूरी के मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश कर पूजा में शामिल होने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। पूरे मंदिर परिसर सहित गर्भ गृह के शुद्धिकरण के बाद भी पंडा समाज और हिंदू संगठन में रोष है।इस बीच आक्रोशित लोगों ने विष्णुपद मंदिर परिसर में धार्मिक न्यास बोर्ड के सदस्य और जदयू के स्थानीय नेता चंदन कुमार सिंह के लगे पोस्टर पर कालिख पोत कर विरोध जताया।

कुछ लोगों का कहना है कि वे आने वाले सभी मंत्री व विधायकों को व्यक्तिगत रूप से जानते थे। उन्हें आहिंदू प्रवेश निषेध के नियम को बताना चाहिए था। अगर वह बता देते तो इतना बड़ा बखेड़ा खड़ा नहीं होता। पंडा समाज के लोगों का कहना है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित स्थानीय नेता चंदन कुमार सिंह माफी मांगे नहीं तो आगे कड़ा विरोध जारी रहेगा।

बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ अल्पसंख्यक मंत्री मोहम्मद इसराइल मंसूरी गया के प्राचीन विष्णुपद मंदिर के गर्भगृह में चले गये थे। इससे बिहार में सियासी बवाल मच गया था। साथ ही हिंदू संगठनों में इसके खिलाफ रोष है। हालांकि मीडिया से बात करते हुए मोहम्मद इसराइल मंसूरी ने कहा था कि यह महज एक संयोग है कि मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ विष्णुपद मंदिर के 'गर्भगृह' में प्रवेश किया। यहां के नियमों की मुझे जानकारी नहीं थी।


Find Us on Facebook

Trending News