PATNA के प्रतिष्ठित IGIMS में रैगिंग, छात्रा ने लगाए गंभीर आरोप, बताया क्या करवाते थे सीनियर्स

PATNA के प्रतिष्ठित IGIMS में रैगिंग, छात्रा ने लगाए गंभीर आरोप, बताया क्या करवाते थे सीनियर्स

PATNA : राजधानी पटना के प्रतिष्ठित अस्पताल में शुमार आईजीआईएमएस में रैगिंग का मामला (Ragging case in IGIMS Patna) सामने आया है। आईआईएमएस में पढ़ाई कर रही  फर्स्ट ईयर की छात्रा ने सेकंड ईयर के 8 छात्र छात्राओं पर रैगिंग करने का आरोप लगाते हुए इसकी शिकायतकंप्लेन नेशनल मेडिकल कमीशन (National Medical Commission) में किया है। जिस पर तत्काल एक्शन लेते हुए एनएमसी ने आईजीआईएमएस से 3 दिनों के अंदर इस पर जवाब मांगा है।

देर रात फोन कर डांस करने को कहते है सीनियर्स

छात्रा ने एनएमसी को पत्र लिखकर शिकायत की थी कि उसके सीनियर स्टूडेंट जिसमें छात्र और छात्राएं दोनों शामिल हैं, 8 की संख्या में है. यह सीनियर्स उसे देर रात फोन करके डांस करने को कहते हैं इतना ही नहीं विरोध करने पर गाली गलौज भी करते हैं। छात्रा का आरोप है कि सीनियर्स उसे बिना अनुमति यूनिफार्म नहीं पहने का भी दबाव बनाते हैं।

एंटी रैगिंग कमेटी शुरू की जांच

एनएमसी के निर्देश के बाद अब कॉलेज का एंटी रैगिंग कमिटी एक्शन में आ गया है और आरोपी छात्र-छात्राओं की पहचान करने के साथ ही पीड़ित छात्रा का भी पता लगाने का काम कर रहा है। कमेटी की मानें तो घटना की पुष्टि होने पर आरोपी स्टूडेंट से छात्रा के आरोप पर जवाब मांगा जाएगा और जवाब संतोषजनक नहीं होने पर उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

वहीं दूसरी तरफ आईजीआईएमएस के जिस हॉस्टल में पीड़ित छात्रा रहती है, उसके वार्डन का कहना है कि "अब तक पीड़ित छात्रा की पहचान नहीं हो पाई है, लेकिन जल्द ही पता लगा लिया जाएगा और उसकी बातों को सुना जाएगा. छात्रा ने जिन पर आरोप लगाया है उनकी भी पहचान की जा रही है। कॉलेज में भी एंटी रैगिंग कमेटी है लेकिन छात्रा ने कॉलेज में कोई कंप्लेन नहीं किया है. यह मामला नेशनल मेडिकल कमीशन की ओर से पत्र मिलने के बाद सामने आया है. मामले को कॉलेज प्रबंधन ने काफी गंभीरता से लिया है और जांच की जा रही है."


Find Us on Facebook

Trending News