रघुवंश बाबू छोड़ देंगे राजद, टूट जाएगी लालू से चार दशक पुरानी दोस्ती, तेजस्वी ने रामा सिंह की एंट्री पर लगा दी है मुहर

रघुवंश बाबू छोड़ देंगे राजद, टूट जाएगी लालू से चार दशक पुरानी दोस्ती, तेजस्वी ने रामा सिंह की एंट्री पर लगा दी है मुहर

Patna: चार दशक पुरानी दोस्ती में दरार आना तय हो चुका है. समाजवादी नेता रघुवंश प्रसाद सिंह बाहुबली रामा सिंह की राजद में एंट्री को लेकर काफी नाराज हैं. उन्होंने स्पष्ट कर दिया है की अस्पताल से निकलने के बाद कोई भी राजनीतिक बात करेंगे. बता दें कि बुधवार को ही रघुवंश बाबू के समर्थकों ने रामा सिंह की राजद में एंट्री को लेकर राबड़ी देवी के आवास के सामने जमकर खिलाफत करते हुए नारेबाजी की.

गौरतलब है कि रामा सिंह की राजद में एंट्री को लेकर रघुवंश बाबू पहले भी नाराजगी जता चुके हैं. बता दें कि रघुवंश बाबू जब कोरोना से पीड़ित हुए थे और एम्स में भर्ती थे उसी दौरान तेजस्वी ने रामा सिंह के एंट्री पर मुहर लगा दी थी. यह बात जैसे ही रघुवंश बाबू को पता चली तो उन्होंने जबरदस्त नाराजगी का इजहार किया था. फिर मामला राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने संभाला और रामा सिंह की एंट्री पर तत्काल रोक लगा दी गई. बिहार विधानसभा चुनाव को देखते हुए तेजस्वी यादव ने पूर्व सांसद रामा सिंह के एंट्री को हरी झंडी दे दी है. जैसा कि बताया गया है रामा सिंह 29 अगस्त को राजद की सदस्यता ग्रहण करेंगे. इस बात की जानकारी जैसे ही दिल्ली के अस्पताल में इलाजरत रघुवंश बाबू को मिली तो एक बार फिर से वह नाराज हो गए. उनके समर्थकों के द्वारा भी रामा सिंह की एंट्री को लेकर जबरदस्त विरोध जताया जा रहा है. बुधवार को भी महनार से आए रघुवंश बाबू के समर्थकों ने राबड़ी देवी के आवास के आगे रामा सिंह के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.


रामा सिंह की राजद में एंट्री  और रघुवंश बाबू की नाराजगी को लेकर तेजस्वी यादव अपने पिता और राजद सुप्रीमो को भी अवगत करा दिया है. गौरतलब है कि तेजस्वी यादव सीधे दिल्ली से रांची गए और इस मसले पर लालू प्रसाद यादव से बात की.

तेजस्वी यादव ने रांची से लौटने के बाद राबड़ी देवी के आवास के समक्ष रामा सिंह के खिलाफ हो रही नारेबाजी पर कहा है कि हर पार्टी कार्यकर्ताओं का अधिकार है कि वह टिकट मांगे और यह लोग टिकट की मांग कर रहे हैं. इसमें कोई बुराई नहीं हैं. बता दें कि लालू के बड़े लाल तेज प्रताप यादव ने भी रघुवंश बाबू के खिलाफ काफी तीखी टिप्पणी की थी. जिसमें तेज प्रताप ने कहा था कि समुद्र से एक लोटा पानी बाहर आ जाएगा तो समुद्र के सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा. तेज प्रताप ने रघुवंश बाबू की तुलना राजद में एक लोटा पानी से कर दी थी. इस बात से भी रघुवंश बाबू काफी नाराज हैं.

Find Us on Facebook

Trending News