राहुल गांधी पहुंचे जेल, न कोई अपराध और ना ही कोई सजा फिर भी कांग्रेस नेता के साथ क्या हुआ खेल

राहुल गांधी पहुंचे जेल, न कोई अपराध और ना ही कोई सजा फिर भी कांग्रेस नेता के साथ क्या हुआ खेल

DESK. कांग्रेस नेता राहुल गांधी के शनिवार को चंचलगुडा जेल पहुंचने से सभी अचंभित हो गए। यहां वे NSUI के नेताओं से मिलने पहुंचे थे। ये नेता और कार्यकर्ता हैदराबाद में उस्मानिया विश्वविद्यालय में हुए प्रदर्शन के दौरान हिरासत में लिए गए थे। 

दरअसल, तेलंगाना की उस्मानिया यूनिवर्सिटी ने अपने परिसर में राहुल गांधी को कार्यक्रम करने की मंजूरी देने से इनकार कर दिया था। NSUI इसी का विरोध कर रही थी। राहुल गांधी 7 मई को उस्मानिया विश्वविद्यालय आना चाहते थे, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं मिली थी। पुलिस ने उस्मानिया यूनिवर्सिटी ज्वाइंट एक्शन कमेटी (ओयू जेएसी) के नेताओं को कैंपस में आर्ट्स कॉलेज के सामने धरना करने पर अरेस्ट किया था। 

NSUI नेताओं और कार्यकर्ताओं पर गैरकानूनी रूप से इकट्ठा होने, मारपीट करने, दंगा करने, अतिक्रमण करने और लोक सेवकों को उनके काम से रोकने के लिए मामला दर्ज किया गया है। इसके बाद वेंकट बालमूर और 17 अन्य को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। वहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। NSUI ने आरोप लगाया है कि विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) सरकार के इशारे पर ऐसा किया।

राहुल गांधी शुक्रवार को तेलंगाना के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री दामोरदम संजीवैया को पुष्पांजलि अर्पित की। राहुल गांधी जब हैदराबाद पहुंचे तो वहां बैनर लगाए गए थे और पूछा गया था कि क्या वह 'व्‍हाइट चैलेंज(ड्रग टेस्‍ट)' स्‍वीकार करने के लिए तैयार हैं? यह कैम्पेन पिछले साल सितंबर में कांग्रेस सांसद ए रेवंत रेड्डी ने शुरू किया है। रेवंत रेड्डी के अनुसार, वह युवाओं में नशे की बढ़ती लत को देखते हुए यह अभियान शुरू किया गया है।


Find Us on Facebook

Trending News