पूर्व रेलवे के मालदा डिवीजन में रेल संसदीय समिति की हुई बैठक, सांसद अजय मंडल ने दिए कई सुझाव

पूर्व रेलवे के मालदा डिवीजन में रेल संसदीय समिति की हुई बैठक, सांसद अजय मंडल ने दिए कई सुझाव

BHAGALPUR : रेल मंडल संसदीय समिति पूर्व रेलवे मालदा डिवीजन की बैठक आयोजित की गयी। इस बैठक में भागलपुर लोकसभा क्षेत्र के सांसद अजय कुमार मंडल ने अपने  क्षेत्र से जुड़ी रेलवे की कई सारी समस्याओ एवं सुझाव को रखा। साथ ही उनके त्वरित निदान हेतु निर्देश दिया। जिसमें प्रमुख रुप से भागलपुर से अगरतला राजधानी को जल्द से जल्द चलाने की मांग की। 


साथ ही कहा की हावड़ा सियालदह राजधानी को भी भागलपुर होकर सप्ताह में कम से कम 2 दिन चलाने का रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजा जाए। भागलपुर के पुरानी ट्रेन को सियालदह वाराणसी अप्पर इंडिया एक्सप्रेस को जल्द से जल्द सुचारू रूप से चलाया जाए। भागलपुर जंक्शन पर उद्योग को बढ़ावा देने के लिए पेंटिंग करवाया जाए। ताकि यात्री सिल्क सिटी के रूप में भागलपुर को जान सके। नाथनगर, विक्रमशिला स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज का निर्माण एवं बुनियादी सुविधाओं जैसे यात्री सेड, पेयजल, शौचालय,हाई मास्ट लाइट, स्टेशन की साफ-सफाई,सुरक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने, घोघा में गया हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन और फरक्का एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव हो। 

लैलख ममलखा में जमालपुर हावड़ा एक्सप्रेस, इंटरसिटी एक्सप्रेस का ठहराव, खगड़िया से भागलपुर हेतु पैसेंजर ट्रेनों में बढ़ोतरी की जाने की मांग, मिर्जा चौकी रेलवे स्टेशन पर साहिबगंज दानापुर इंटरसिटी एवं गया हावड़ा एक्सप्रेस के ठहराव की मांग, अपर इंडिया एक्सप्रेस राजगीर हावड़ा पैसेंजर और दानापुर फास्ट पैसेंजर ट्रेनों का सुचारू रूप से परिचालन सुनिश्चित करने की मांग, ट्रेनों के महिला डिब्बों में सुरक्षा हेतु महिला सिपाही एवं महिला डिब्बों का रंग बदलने का सुझाव, भागलपुर से भारत की राजधानी दिल्ली, महाराष्ट्र, चेन्नई एवं कोलकाता यानि पूर्व, पश्चिम, उत्तर ,दक्षिण भारत में जाने वाली ट्रेनों में बढ़ोतरी करने हेतु अनिवार्य एवं ठोस कदम उठाने हेतु सुझाव दिया एवं इसके अलावा बहुत सारे प्रमुख मांगों को सांसद अजय कुमार मंडल के द्वारा प्रमुखता से बैठक में उठाया गया। 

बैठक के अंतिम चरण में सांसद के द्वारा रेलवे के अधिकारियों को जनहित में कार्य करने हेतु कुछ महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए गए। जिसमें उनके द्वारा यह बात रखा गया कि रेलवे के कुछ अधिकारियों द्वारा जनप्रतिनिधि से उचित व्यवहार नहीं किया जाता है। जबकि आप अगर सम्मान देंगे। तभी आपको भी सम्मान मिलेगा। किसी भी अधिकारी को अपने पद का रौब नहीं दिखाना चाहिए। आप और हम दोनों जनता की सेवा के लिए हैं। हम सभी का कर्तव्य जनता की भलाई एवं विकास करना है। बीते दिनों देखने में आया है कि कुछ अधिकारी नियम की अनदेखी कर इस बैठक को नियमानुसार आयोजित नहीं कराना चाहते है। उन अधिकारियों को सूचित करना चाहता हूं कि इस प्रकार का व्यवहार आपका रहा तो उसके परिणाम आपके लिए भविष्य में अच्छे नहीं होंगे।

भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News