जनता दरबार में खुला राज, नीतीश राज में बिहार में फिर हुआ दूसरा ‘चारा घोटाला’

जनता दरबार में खुला राज, नीतीश राज में बिहार में फिर हुआ दूसरा ‘चारा घोटाला’

पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव भले आज तक चारा घोटाले का दंश झेल रहे हों लेकिन अब नीतीश राज में भी चारा घोटाला होने की शिकायत सामने आई है. शिकायत किसी और से नहीं बल्कि सीधे नीतीश कुमार से की गई है. 

सोमवार को नीतीश कुमार के जनता दरबार में आए एक फरियादी ने अपने नगर निगम से संबंधित अनियमितता की शिकायत करते हुए उसे बिहार का दूसरा चारा घोटाला बताया. मधुबनी से आए युवक ने मुख्यमंत्री से कहा कि यह भी एक चारा घोटाले है.

युवक का कहना था कि मधुबनी नगर निगम के कार्यपालक पदाधिकारी आशुतोष आनंद चौधरी द्वारा निगम में वाहन खरीद सहित अन्य प्रकार के कार्यों में बड़े स्तर पर अनियमितता की गई है. फरियादी ने कहा, ट्रैक्टर की जगह मोटरसाइकिल का नंबर देकर फंड का दुरूपयोग किया गया. यह भी एक प्रकार से चारा घोटाले की भांति हुआ. उनका कहना था कि इसे लेकर उनके पास कई दस्तावेज हैं. फरियादी युवक की बातें सुनकर नीतीश कुमार ने नगर विकास के पास शिकायत के आलोक में कार्रवाई के लिए भेज दिया.

वहीं, नवादा से आए एक फरियादी ने उनके गाँव में सात निश्चय के तहत हो रहे काम में अनियमितताओं की शिकायत की. इस पर सीएम ने ग्रामीण कार्य विभाग को कहा कि इनकी शिकायत को देखें. फरियादी ने कहा कि उनके यहाँ सात निश्चय में पैसा निकल गया लेकिन कोई काम नहीं हुआ. इस पर नीतीश ने उसे आश्वासन दिया कि पूरी जाँच कराकर हम एक्शन लेंगे. 

वहीं एक फरियादी ने 10 वर्षों से आवास नहीं मिलने की शिकायत की. उसने कहा कि हर प्रकार के पात्रता मापदंड के अनुरूप होने के बाद भी मुझे लाभ से वंचित रखा जा रहा है. 


Find Us on Facebook

Trending News