रामकथा के दौरान तूफान की तबाही, पंडाल गिरने से 14 की मौत, कई घायल

रामकथा के दौरान तूफान की तबाही, पंडाल गिरने से 14 की मौत, कई घायल

राजस्थान के बाड़मेर में रविवार को बारिश और तूफान ने कई लोगों की जान ले ली। जिले के एक गांव में धार्मिक कार्यक्रम चल रहा था और अचानक तेज तूफान आने से पंडाल गिर गया। इस हादसे में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई और 20 से ज्यादा घायल हुए हैं, जिन्हें पास के नाहटा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि तूफान इतना तेज था कि लोगों को संभलने का भी मौका नहीं मिला।


दरअसल बाड़मेर के जसोल गांव में राम कथा चल रही थी और तूफान के कारण आयोजन स्थल पर पंडाल गिर गया। टीवी रिपोर्टों में बताया गया है कि बारिश के दौरान पंडाल गिरने से करंट दौड़ गया, जिससे लोगों की जान चली गई। हालांकि आधिकारिक तौर पर अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर गहरा दुख जताया है। पीएम ने कहा, 'बाड़मेर में पंडाल गिरना दुर्भाग्यपूर्ण है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है और मैं घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं।

Find Us on Facebook

Trending News