राजनाथ सिंह को बिहार भेजने के क्या हैं मायने..डिप्टी CM का चेहरा बदलने वाली है बीजेपी ?

राजनाथ सिंह को बिहार भेजने के क्या हैं मायने..डिप्टी CM का चेहरा बदलने वाली है बीजेपी ?

पटनाः भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में बीजेपी विधायक दल का नेता चुनाव होगा। नंबर दो हैसियत वाले राजनाथ सिंह को बिहार भेजने के निर्णय के बाद कयासों का बाजार गर्म है। ऐसी अटकलें लगाई जा रही है कि भाजपा विधायक दल की बैठक में कोई बड़ा निर्णय हो सकता है,यानि इस बार बीजेपी नेतृत्व उपमुख्यमंत्री का चेहरा बदल सकती है। बीजेपी जिसे विधायक दल का नेता चुनेगी उसे ही उपमुख्यमंत्री बनाएगी।जानकारों की कहना है कि, इस बार के जनादेश से कई  राजनीतिक परेशानियां खड़ी हो सकती हैं,लिहाजा बीजेपी नेतृत्व ने राजनाथ सिंह को बिहार भेजने का निर्णय लिया है.ताकि तमाम गुत्थी को सर्वसम्मति से सुलझा लिया जाए।


क्या डिप्टी CM का चेहरा बदलेगी बीजेपी?
बिहार के राजनीतिक हलके में चर्चा तेज है कि बीजेपी इस बार नीतीश सरकार में भाजपा कोटे से डिप्टी सीएम रहे सुशील मोदी की भूमिका में बदलाव करने वाली है. उनकी जगह पर किसी दूसरे चेहरे को उपमुख्यमंत्री की कुर्सी दी जा सकती है. बीजेपी नेतृत्व 2025 विस चुनाव मद्देनजर इस बार नेता का चयन करना चाहती है ताकि उसे अगली बार सीएम कैंडिडेट के तौर पर पेश किया जा सके। ऐसे में बीजेपी तमाम समीकरणों को ध्यान में रखकर नेता का चुनाव करने वाली है।क्यों कि, अब ऐसी संभावना न के बराबर है कि 2025 विस चुनाव में नीतीश कुमार NDA के सीएम कैंडिडेट हों।

एनडीए की भी बैठक कल

इधर बीजेपी विधायक दल की बैठक के बाद एनडीए की भी बैठक होने वाली है। एनडीए की बैठक में नीतीश कुमार को नेता चुना जाएगा। इसके बाद सरकार बनाने का प्रस्ताव राज्यपाल के सामने पेश किया जाना है। नीतीश कैबिनेट ने 16वीं बिहार विधानसभा को भंग करने का निर्णय लिया गया। उसके बाद मुख्यमंत्री शाम में राजभवन पहुंचे और राज्यपाल फागू चौहान से 16वीं विधानसभा को भंग करने की अनुशंसा की। साथ ही, अपने और मंत्रिपरिषद के अन्य सहयोगियों के इस्तीफे भी सौंपे। 16वीं विधानसभा को राज्यपाल द्वारा भंग किये जाने के साथ ही नई सरकार के गठन की प्रक्रिया भी आरंभ हो गई।

Find Us on Facebook

Trending News